Maharashtra Bandh : शिवसेना ने जाम किया हाईवे, भाजपा बोली-विकास विरोधी है राज्य सरकार

उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी जिले में बीते दिनों प्रदर्शन कर रहे किसानों की कार से कुचलकर हत्या के विरोध में महाराष्ट्र सरकार ने आज...

महाराष्ट्र। उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी जिले में बीते दिनों प्रदर्शन कर रहे किसानों की कार से कुचलकर हत्या के विरोध में महाराष्ट्र सरकार ने आज राज्यव्यापी बंद का आह्वान किया है। राज्य में इस बंद का मिला-जुला असर देखने को मिल रहा है। सत्ताधारी गठबंधन की तरफ से आयोजित बंद के कारण कई जिलों में दुकानें बंद हैं। इसके साथ ही मुंबई और पुणे जैसे शहरों में लोकल बसें भी नहीं चल रही हैं। हालांकि लोकल ट्रेनों का संचालन सामान्य हो रहा है। मुंबई, पुणे, ठाणे और नासिक की कई ट्रेडर्स एसोसिएशन ने इस बंद का समर्थन किया है। सोमवार को सुबह मुंबई और पुणे जैसे शहरों में कुछ बसें भीचला रही थी और लोग सफर भी कर रहे थे लेकिन सत्ताधारी दलों के कार्यकर्ताओं के विरोध के बाद इन बसों का संचालन बंद कर दिया गया।

Maharashtra Bandh

100 फीसदी सफल है महाराष्ट्र बंद

शिवसेना के राज्यसभा सांसद संजय राउत ने बंद को 100 प्रतिशत सफल बताया है। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी जिले में किसानों को कुचले जाने का लोग खुद विरोध कर रहे हैं। यही वजह है कि उन्होंने बंद को समर्थन दिया है। इस बीच खबर आ रही है कि बीती रात मुंबई में BEST की 8 बसों में तोड़फोड़ भी की गई थी। BEST के प्रवक्ता ने बताया कि हमने हमलों के मद्देनजर सरकार से पुलिस सुरक्षा की मांग की है। इधर भाजपा ने बंद का विरोध करते हुए कहा कि शिवसेना हमेशा से ही विकास का विरोध कर रही है। भाजपा नेता आशीष शेलार ने कहा, ‘शिवसेना ने हमेशा विकास का विरोध किया है। उन्होंने 1980 में मिलों में हड़ताल का भी अप्रत्यक्ष तौर पर समर्थन किया था। इसके अलावा नवी मुंबई, सिंधुदुर्ग में हवाई अड्डों और तटीय मार्गों का भी विरोध किया था।’

हाईवे जाम, कांग्रेस रखेगी मौन व्रत

भाजपा नेता ने कहा कि शिवसेना और उसके साथी दलों ने ऐसे समय में बंद का आह्वान किया है जब राज्य के लोग लंबे समय तक चले लॉकडाउन की वजह से पहले से ही तनाव में हैं। बसों के साथ ही राज्य के कई शहरों में ऑटो और टैक्सियों का संचालन भी प्रभावित है। कई टैक्सी यूनियंस ने बंद का समर्थन किया है। यही नहीं शिवसैनिकों ने पुणे-बेंगलुरु हाईवे भी जाम कर दिया है। शिवसेना के सिवा कांग्रेस ने भी बंद में बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया है। कांग्रेस ने सुबह 11 बजे से राजभवन के बाहर मौन व्रत रखने की घोषण की है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *