मुंह में कपड़ा ठूंस कर दो बहनों से किया गया गैंगरेप, पुलिस ने अब मुख्य आरोपी को किया गिरफ्तार

नाबालिग किशोरियों से गैंगरेप का मुख्य आरोपी गिरफ्तार, तीन अन्य हिरासत में

भीनमाल थाना क्षेत्र के खांडादेवल से शनिवार रात को 14 व 15 साल की दो नाबालिग चचेरी बहनों का अपहरण कर सामूहिक दुष्कर्म करने के मामले में मुख्य आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया, जबकि तीन अन्य को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। मुख्य आरोपी को पुलिस ने पुलिस ने घटनास्थल से 5 किमी दूर पहाड़ी से नीचे उतरते समय दबोचा। शेष तीन आरोपियों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। घायल दोनों नाबालिगों का भीनमाल के अस्पताल में उपचार चल रहा है।

RAPE

पुलिस ने अब तक मुख्य आरोपी खांडादेवल निवासी चेतन कुमार(24) पुत्र वीरमाराम भील को गिरफ्तार किया है। दोनों पीडि़ताओं का राजकीय अस्पताल में मेडिकल करवाया गया, जिसमें सामूहिक दुष्कर्म की पुष्टि हुई है। पीडि़ता के पिता के अनुसार दोनों चचेरी बहनें घर के आंगन में एक ही पलंग पर सो रही थी। रात करीब 1 बजे चारों आरोपियों ने घर में घुसकर दोनों बालिकाओं के मुंह पर रूमाल बांधकर अपहरण कर उठा लिया।

इस दौरान घर का पालतू कुत्ता जोर-जोर से भोंकने लगा। उसकी आवाज सुनकर पीडि़ता के परिजन जागे और बाहर आए तो उन्हें आरोपी दोनों बालिकाओं को गाड़ी में डालकर ले जाते दिखे। इसके बाद उसके पिता ने पीछा भी किया, मगर तब तक आरोपी भाग गए। इसके बाद आसपास के क्षेत्र में काफी तलाश की, लेकिन सुराग नहीं लगा।

आरोपियों ने दोनों नाबालिगों को उनके घर से उठाकर 20 किमी दूर सुंधामाता के नजदीक राजपुरा की सुनसान पहाड़ी में ले गए। जहां पहाड़ी पर दोनों नाबालिगों के साथ आरोपियों ने दुष्कर्म किया। घटना के दौरान नाबालिगों के सिर में चोट लगी थी, जो पहाड़ी में गिरने से उनके सिर में लग गई।

मुख्य आरोपी चेतन भील का राजपुरा में ही ननिहाल है। ऐसे में पहाड़ी क्षेत्र का पूरा जानकार था। नाबालिगों से दुष्कर्म के बाद आरोपी पहाड़ी पर जाकर छिप गया। पूरे दिन वह पहाड़ी पर ही रहा, लेकिन रात में भालुओं का डर सताने लगा। इस बीच प्यास भी लगी तो रात में वह पहाड़ी के निचले हिस्से में सोने के लिए उतरने लगा। सुंधामाता चौकी प्रभारी वनाराम देवासी पहाड़ी में आरोपियों को खोज रहे थे। इसी दौरान पुलिस ने चेतन को चारों तरफ से घेरकर दबोच लिया। मुख्य आरोपी चेतनराम भील व पीडि़ता एक ही गांव के हैं। मुख्य आरोपी चेतनराम भील शादीशुदा है। उसकी पत्नी उसको छोडक़र चार माह पूर्व ही अपने मायके चली गई थी। वह मजदूरी का काम करता है।

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *