मोदी सरकार ने इस पहलवान को दिए इतने लाख, जानिए क्या है पूरा मामला

खेल मंत्रालय ने मध्य प्रदेश के पहलवान सनी जाधव को राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय खेल प्रतियोगिताओं की तैयारी के लिए ढाई लाख रुपये की वित्तीय सहायता प्रदान की है।

नई दिल्ली। खेल मंत्रालय ने मध्य प्रदेश के पहलवान सनी जाधव को राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय खेल प्रतियोगिताओं की तैयारी के लिए ढाई लाख रुपये की वित्तीय सहायता प्रदान की है। खिलाड़ियों के लिए पंडित दीनदयाल उपाध्याय राष्ट्रीय कल्याण कोष से सनी जाधव के प्रशिक्षण, उपकरणों की खरीद और भागीदारी के लिए यह आर्थिक मदद मुहैया कराई गई है।
Sports Ministry provide
दीनदयाल उपाध्याय कोष से खिलाड़ियों को प्रशिक्षण, उपकरणों की खरीद और राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय खेल आयोजनों में भागीदारी के लिए 2.5 लाख रुपये तक की वित्तीय सहायता दी जाती है। उन खिलाड़ियों के माता-पिता को वित्तीय सहायता भी दी जाती है, जो गंभीर परिस्थितियों में रह रहे हैं। उन खेल विषयों से संबंधित खिलाड़ी जिनका संघ या तो विघटित हो गया है या जिनकी मान्यता सरकार द्वारा निलंबित कर दी गई है, वे भी निधि के तहत वित्तीय सहायता के लिए पात्र हैं।
सनी जाधव ने 60 किलोग्राम ग्रीको-रोमन स्पर्धा में भुवनेश्वर में आयोजित खेले इंडिया यूनिवर्सिटी गेम्स 2020 तथा चित्तौड़गढ़, राजस्थान में आयोजित 23 जूनियर नेशनल कुश्ती चैंपियनशिप 2018 में रजत पदक जीते हैं। पिछले कुछ महीनों में सनी ने कुश्ती के अभ्यास के बाद वाहनों की सफाई करने जैसे कार्य कर अर्थ जुटाने का भी प्रयास किया है।

डाइट चार्ट का खर्च वहन नहीं कर पाया तो उधार भी लिए

कड़ी मेहनत के बावजूद अपने डाइट चार्ट (आहार) का खर्च वहन नहीं कर पाने कि दशा में सनी ने उधार भी लिए, लेकिन कुश्ती प्रशिक्षण जारी रखा। दरअसल, वर्ष 2017 में सनी के पिता की ब्रेन हैमरेज के कारण मृत्यु होने के बाद से ही उनकी आर्थिक स्थिति खराब है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *