ममता को पीएम मोदी का जवाब, कहा- समस्या सुरक्षा बलों की नहीं, दीदी की हिंसक॰॰॰

पीएम नरेन्द्र मोदी ने नदिया जिले के कृष्णा नगर से एक जनसभा में कहा कि समस्या सुरक्षाबलों को लेकर नहीं बल्कि दीदी की हिंसक राजनीति है।

पश्चिम बंगाल में शनिवार को चौथे चरण के मतदान वाले दिन सुरक्षाबलों पर हमले के बाद गोलीबारी में चार लोगों की मौत को लेकर CM ममता बनर्जी और पीएम मोदी में जुबानी जंग छिड़ गई है। सीएम ममता ने जहां होम मिनिस्टर अमित शाह के इशारे पर फायरिंग करने का आरोप केंद्रीय बलों पर लगाया वहीं पीएम नरेन्द्र मोदी ने नदिया जिले के कृष्णा नगर से एक जनसभा में कहा कि समस्या सुरक्षाबलों को लेकर नहीं बल्कि दीदी की हिंसक राजनीति है।

mamta modi

पीएम ने कहा कि भाजपा पर लोगों का प्रचंड विश्वास होता जा रहा है। इससे दीदी की नींद उड़ी हुई है। उनका गुस्सा सातवें आसमान पर है। जनता-जनार्दन ईश्वर होती है लेकिन जनता के सामने किसी का अहंकार नहीं टिक पाता है। समस्या सुरक्षा बलों की नहीं है, वरन दीदी की हिंसक राजनीति की है। छप्पा और ढप्पा वोट रुकने से दीदी बौखला गई हैं। मोदी ने सभा में उपस्थित कुछ युवकों द्वारा पेड़ों पर कूद-फांद करने पर कहा, “मुझे चिंता है कि ये नौवजान गिर न जाएं और दीदी मुझ पर ही केस कर देंगी। न आपको गिरना और न ही बंगाल को गिरने देना है।”

उन्होंने कहा कि आप मुझे देख नहीं पाते हैं, जब मैं शपथ समारोह में आऊंगा, तो देख लेना। बंगाल में दो मई से महायज्ञ शुरू होगा। अब बंगाल में ‘सबका साथ, सबका विश्वास और सबका विश्वास’ के साथ विकास का डबल इंजन लगने वाला है। केंद्र में भी भाजपा सरकार और बंगाल में भी भाजपा की सरकार बनेगी।

पीएम मोदी ने कहा टीएमसी के द्वारा हिंसा की कोशिश की जा रही

मोदी ने कहा कि इस बार बैसाख की आंधी टीएमसी सरकार और उसके गुंडों को भी उड़ा कर ले जाएगी। उन्होंने कहा कि आज दीदी चुनाव आयोग, केंद्रीय वाहिनी और अपने पार्टी के पोलिंग एजेंट को गाली दे रही हैं। चुनाव में हार निश्चित देखकर दीदी अपने पुराने खेल में उतर आयी हैं। बंगाल में दीदी और टीएमसी द्वारा हिंसा की कोशिश की जा रही है। दीदी से संवेदनशीलता की उम्मीद बंगाल छोड़ चुका है।

लोकतंत्र के उत्सव में भी माताओं और बहनों की आंसू गिरने की वजह वह बन रही हैं। उन्होंने कहा कि दीदी समस्या सुरक्षा बलों की नहीं है, समस्या आपकी हिंसक राजनीति की है। समस्या छप्पा वोट, ढप्पा वोट रुकने पर आपकी बौखलाहट सामने आयी है। समस्या आपकी भड़काऊ बयानबाजी की है। आपको लोकतंत्र से खिलवाड़ नहीं करने दिया जाएगा। आप लोगों में भय दिखाने की जितनी कोशिश कर रही हैं, उतने ही ज्यादा लोग आपको हराने के लिए एकजुट हो रहे हैं। मोदी ने कहा कि दीदी अपने लिए नहीं, भाइपो के लिए सपना देख रही है। जनता ने पहले चरण से दीदी को धूल चटाना शुरू कर दिया है। चुनाव के बाद दीदी की एक्जिट होगी और भाइपो की इंट्री होगी।

उन्होंने कहा कि बंगाल के लोगों ने तय कर लिया है कि अब खेला शेष होगा.. शेष होगा.. हिंसा का खेला शेष होगा..कट मनी और तोलाबाजी का खेला शेष होगा..। उन्होंने कहा कि राज्य की महिलाएं आपको सजा देने के लिए निकली हैं। मुस्लिमों बहनों ने दीदी का साथ दिया था लेकिन दीदी ने उनके साथ बुरा किया। ये बहन-बेटियां भी आजादी चाहती हैं, लेकिन दीदी ने उनसे ज्यादा कट्टरपंथियों की चिंता की। वोट बैंक की चिंता कीं। मैं इस मंच से पश्चिम बंगाल से हर माता, बहन और बेटी को आश्वस्त करता हूं। डबल इंजन की सरकार आपके हित के लिए काम करेगी। मोदी ने कहा कि इस बार बंगाल में 200 से अधिक सीटें जीतकर पार्टी सरकार बनाएगी और इसे दीदी की गुंडागर्दी रोक नहीं पाएगी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *