फेसबुक पर हुआ प्यार तो सुपारी देकर करा दी पति की हत्या, शादी को हो चुके थे 25 साल

दिल्ली के दरियागंज इलाके में बीते 17 मई को हुई वर्कशॉप मालिक मोइनुद्दीन कुरैशी की हत्या मामले में सनसनीखेज खुलासा हुआ है। पता चला है कि...

नई दिल्ली। दिल्ली के दरियागंज इलाके में बीते 17 मई को हुई वर्कशॉप मालिक मोइनुद्दीन कुरैशी की हत्या मामले में सनसनीखेज खुलासा हुआ है। पता चला है कि कुरैशी की हत्या किसी बाहरी शख्स ने नहीं बल्कि पत्नी ने कराइ है, जिससे उनकी 25 साल पहले शादी हुई थी। बताया जा रहा है कि कुरैशी की पत्नी ने ही अपने प्रेमी के साथ मिलकर इस वारदात को अंजाम दिया था। दोनों ने छह लाख रुपये की सुपारी देकर गाजियाबाद सेकिराये के हत्यारे को बुलाया था और कुरैशी की हत्या कराई।

murder

दरअसल मृतक की पत्नी के मोबाइल की कॉल डिटेल रिकॉर्ड से पुलिस को बड़ी टिप मिली जिस पर उसने बुधवार को तीनों आरोपियों को अरेस्ट कर लिया। पुलिस ने मोइनुद्दीन कुरैशी की 40 वर्षीय पत्नी जीबा कुरैशी, उसके 29 वर्षीय प्रेमी शोएब और भाड़े के हत्यारे विनीत गोस्वामी को पकड़ लिया है।

सुपारी किलर गोस्वामी गाजियाबाद के बम्हेटा गांव का निवासी है। इनके पास से एक पिस्तौल, दो कारतूस, सुपारी की रकम के तीन लाख रुपये और वारदात में इस्तेमाल की गई चोरी की बाइक बरामद हुई है। मामले की पूरी जानकारी देते हुए डीसीपी श्वेता चौहान ने बताया कि बीते 17 मई की रात करीब 10 बजे कालीदास रोड पर खालसा स्कूल के सामने अज्ञात बाइक सवारों ने वर्कशॉप मालिक मोइनुद्दीन की गोली मारकर हत्या कर दी थी। पुलिस ने मोइनुद्दीन के छोटे भाई रुकनुद्दीन के बयान पर मामला दर्ज कर छानबीन शुरू की थी।

कॉल डिटेल से खुला राज

मामले की छानबीन के दौरान पुलिस ने मृतक की पत्नी से जब पूछताछ शुरू की तो उसमें काफी विरोधाभास मिला। मृतक की पत्नी बार-बार बयान बदल भी रही थी। इस पर पुलिस को शक हुआ और उसके मोबाइल की कॉल डिटेल निकाली। कॉल डिटेल से पता चला कि जीबा मेरठ के एक नंबर पर अक्सर बात करती थी। इस बारे में जब पुलिस ने उससे पूछताछ की तो वह ठीक से जवाब नहीं दे पाई। सख्ती बरतने पर वह टूट गई और उसने जुर्म कबूल लिया। इसके बाद पुलिस ने बुधवार को एक-एक कर तीनों आरोपियों को अलग-अलग जगहों से गिरफ्तार कर लिया।