नेपाल के प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली ने लिया चौंकाने वाला फैसला, इन 10 नेताओं को बनाया मंत्री

पुनर्गठित मंत्रिपरिषद में जेएसपी के 10 नेताओं को शामिल किया गया है, जिसमें आठ को कैबिनेट और दो को राज्य मंत्री बनाया गया है।

काठमांडू॥ नेपाल के पीएम (Prime Minister) केपी शर्मा ओली ने जेएसपी को सरकार में शामिल करते हुए अपनी 17 सदस्यीय मंत्रिपरिषद का पुनर्गठन किया है। पुनर्गठित मंत्रिपरिषद में जेएसपी के 10 नेताओं को शामिल किया गया है, जिसमें आठ को कैबिनेट और दो को राज्य मंत्री बनाया गया है।

oli

पीएम (Prime Minister) ने 6 प्रमुख विभागों को अपने पास रखा है। पिछली मंत्रिपरिषद के ज्यादातर मंत्रियों को हटा दिया गया है। राष्ट्रपति विद्या देवी भंडारी ने शुक्रवार को शीतल निवास में आयोजित एक सादे समारोह में सभी नवनियुक्त मंत्रियों को पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाई। सीपीएन-यूएमएल के अधिकतर मंत्रियों को हटा दिया गया है।

अब सरकार में तीन उप पीएम (Prime Minister), 12 मंत्री और दो राज्य मंत्री रहेंगे। सीपीएन-यूएमएल के विष्णु पौडेल, रघुवीर महासेठ और जेएसपी के राजेंद्र महतो को उप पीएम (Prime Minister) बनाया है। उप प्रधानमंत्रियों में विष्णु पौडेल को अर्थ मंत्रालय, रघुवीर महासेठ को विदेश और राजेंद्र महतो को शहरी विकास मंत्रालय का जिम्मा सौंपा गया है।

सीपीएन-यूएमएल के शेरबहादुर तामांग को स्वास्थ्य मंत्री बनाया गया है। जेएसपी के शरद सिंह भंडारी को ऊर्जा मंत्री, बिमल श्रीवास्तव को श्रम मंत्री, लक्ष्मण लाल कर्ना को भूमि सुधार मंत्री, अनिल झा को जल आपूर्ति मंत्री, उमा शंकर अरगारिया को युवा एवं खेल मंत्री, चंदा चौधरी को महिला एवं शिशु विभाग और इकबाल मिया को वन मंत्री बनाया गया है।

जबकि, चंद्रकांत चौधरी और रेणुका गुरुंग को राज्यमंत्री बनाया गया है। ओली मंत्रिपरिषद में जेएसपी के शामिल होने के साथ ही मधेसी पार्टी में दरार दिखने लगी है। जेएसपी के उपेंद्र यादव के नेतृत्व वाला धड़ा विपक्षी गठबंधन में शामिल हो गया है। विपक्षी गठबंधन का नेतृत्व नेपाली कांग्रेस और सीपीएन (एमसी) कर रहे हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *