OMG : यहां दी गईं ऐसी अजीबोगरीब सजाएं जिसे जानकर आपकी रूह कांप जाएगी

दुनिया के हर देश में अपराधियों को किसी भी अपराध के लिए अलग-अलग तरह की सजा का प्रावधान है. इसके बावजूद कुछ देशों में अपराधियों को ऐसी सजा दी जाती है, जिसके बारे में सुनकर आपको बहुत अजीब लगेगा। आज हम आपको कुछ ऐसे देशों के बारे में बताने जा रहे हैं जहां अनोखी सजा दी जाती थी। सबसे पहले बात करते हैं अमेरिका के मिसौरी में रहने वाले डेविड बेरी को दी गई सजा की। दरअसल, डेविस बेरी ने एक बार सैकड़ों हिरणों का शिकार किया था। उसके बाद साल 2018 में डेविस को इस अपराध का दोषी मानते हुए कोर्ट ने उसे सजा सुनाई। अदालत ने उसे सजा सुनाते हुए कहा कि डेविस महीने में कम से कम एक साल जेल में रहते हुए डिज्नी का बांबी कार्टून देखेगा।

इसके अलावा अमेरिका में दो युवकों को कोर्ट ने अनोखी सजा सुनाई। दरअसल, साल 2003 में अमेरिका के शिकागो में रहने वाले दो लड़कों ने क्रिसमस की शाम चर्च से ईसा मसीह की प्रतिमा चुरा ली थी. इसके बाद उन्होंने मूर्ति को भी क्षतिग्रस्त कर दिया। अदालत ने उसे इस अपराध का दोषी पाते हुए 45 दिन की जेल की सजा सुनाई। इसके अलावा उन्हें अपने गृहनगर में गधे के साथ मार्च करने का भी आदेश दिया गया था।

कोर्ट ने अमेरिका के ओक्लाहोमा में रहने वाले 17 साल के टायलर एलरेड को भी अनोखी सजा दी। जो शायद ही किसी को देखने को मिले। दरअसल, टायलर एलेड ने शराब पीकर गाड़ी चलाई, जिससे कार हादसे का शिकार हो गई। जिसमें टायलर के एक दोस्त की मौत हो गई थी। यह घटना वर्ष 2011 की है। चूंकि टायलर उस समय हाई स्कूल में था, इसलिए अदालत ने उसे हाई स्कूल और ग्रेजुएशन की पढ़ाई खत्म करने के अलावा एक साल के ड्रग, अल्कोहल और निकोटीन टेस्ट के साथ-साथ चर्च में 10 साल की उपस्थिति की सजा सुनाई। .

वहीं, स्पेन के अंडालूसिया में रहने वाले 25 वर्षीय युवक के माता-पिता ने उसे पॉकेट मनी देना बंद कर दिया था, जिसके बाद उसने मामले को कोर्ट में लाया। हालांकि, अदालत ने इसके विपरीत उसे सजा सुनाई कि अगले 30 दिनों के भीतर उसे अपने माता-पिता का घर छोड़कर अपने पैरों पर खड़ा होना होगा। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक साल 2008 में एंड्रयू वेक्टर पर उनकी कार में तेज म्यूजिक सुनने के लिए 120 पाउंड्स लगाए गए थे. वह अपना पसंदीदा संगीत ‘रैप’ सुन रहे थे। हालांकि, न्यायाधीश ने बाद में कहा कि वह जुर्माने को घटाकर £30 कर देंगे, बशर्ते कि वेक्टर को 20 घंटे तक बीथोवेन, बाख और शोपेन का शास्त्रीय संगीत सुनना पड़े।