OMG : जब मर चुकी महिला बोली, मैं जिंदा हूं…जयदेवी है मेरा नाम, फिर हुआ ये

उत्तर प्रदेश के बांदा जिले के जसपुरा थाना क्षेत्र में केन नदी पर घर से गायब हुई एक महिला की लाश मिली थी। जिसकी पहचान मायके वालों ने करते हुए ससुराली जनों पर मार डालने का आरोप लगाया था।

बांदा। उत्तर प्रदेश के बांदा जिले के जसपुरा थाना क्षेत्र में केन नदी पर घर से गायब हुई एक महिला की लाश मिली थी। जिसकी पहचान मायके वालों ने करते हुए ससुराली जनों पर मार डालने का आरोप लगाया था। आज उस समय थाने में सनसनी मच गई जब मृत महिला जीवित लौट आई और उसने पुलिस के सामने बताया कि मैं जयदेवी हूं।
woman
बताते चले कि, जसपुरा थाना क्षेत्र के अमारा गाँव के पथरेल घाट में 19 फरवरी से लापता विवाहिता का शव तीन दिन पहले केन नदी में मिला था।जसपुरा थाना में 20 फरवरी को थाना क्षेत्र के जसपुरा कस्बे के बिलोडा डेरा के रमेश पुत्र धनीराम निषाद ने अपनी पुत्री जय देवी पत्नी लाल जी निवासी मथुरापूरी मजरा नादादेव थाना जसपुरा के लापता होने की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। रमेश ने थाना में बताया था कि उसकी बेटी को उसके ससुराल वाले दहेज के लिए मारते पीटते थे। उसके दामाद ने उसको 20 फरवरी को करीब 3 बजे फोन से कहा कि बीती रात से तुम्हरी बेटी कही गायब हो गई हैं।दामाद लाल जी द्वारा इस तरह की सूचना मिली तो वह मथुरा पूरी गया तो वहाँ लोगो ने बताया कि तुम्हारी बेटी को मार डाला गया है।

दर्ज हुई था मुकदमा

रमेश ने बताया कि उसकी बेटी की शादी 6 साल पहले हुई थी। मृतका के चाचा चंद्रपाल ने आरोप लगाया था कि जसपुरा पुलिस ने लड़की को खोजने में कोई रुचि नही दिखाई।जब पुलिस ने कोई रुचि नहीं दिखाई तो परिजनों ने खुद ही ढूढ़ना शुरू कर दिया। परिजनों ने ही अमारा गांव के नदी किनारे पथरेल घाट के पास नदी मे जयदेवी  की लाश देखी थी जिसे जसपुरा पुलिस ने नदी से बरामद किया था। पिता की तहरीर पर जसपुरा पुलिस ने पति लालजी, ससुर अनुरुद्ध पुत्र ननुआ, सास राधिका, जेठ राजकिशोर, जेठानी फुला व देवर छोटा तथा दो अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया था।
आज महिला जिंदा कानपुर से लौटी और सीधे थाने पहुंचकर अपनी बात कही। पुलिस भी महिला के जिंदा लौटने से हैरान रहे गए हैं। ऐसे में कई सवाल खड़े हो गए हैं। सबसे अहम सवाल यह है कि अगर महिला के शव की पहचान जयदेवी के रूप में हुई तो क्या किसी ने साजिश रची थी। झूठी पहचान करके ससुराल पक्ष के लोगों को फंसाने का मामला तो नहीं। अगर जय देवी जिन्दा है तो बरामद शव किसका है जो केन नदी से मिला।  ऐसे में बड़ी साजिश की ओर भी संकेत मिल रहे हैं।

पुलिस बोली

थाना प्रभारी पंकज सिंह का कहना है कि जांच की जा रही है। महिला से पूछताछ कर रहे हैं। पुलिस ने महिला के शव का पोस्टमार्टम कराया था पोस्टमार्टम रिपोर्ट में महिला की मौत का कारण गला दबाकर हत्या बताया गया था।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *