Omicron variant: केंद्र ने दिया कोरोना प्रोटोकाल का सख्ती से पालन करने का निर्देश, PM करेंगे बड़ी बैठक

देश में ओमिक्रॉन वैरिएंट के बढ़ते प्रसार के मद्देनजर केंद्र सरकार अब एक्शन मोड़ में आ गई हैं। एक तरफ केंद्र ने मंगलवार को सभी राज्यों को...

नई दिल्ली। देश में ओमिक्रॉन वैरिएंट के बढ़ते प्रसार के मद्देनजर केंद्र सरकार अब एक्शन मोड़ में आ गई हैं। एक तरफ केंद्र ने मंगलवार को सभी राज्यों को कोरोना संबंधी सख्तियां बढ़ाने के निर्देश दे दिए हैं तो वहीं दूसरी तरफ आने वाले गुरुवार को खुद प्रधानमंत्री मोदी एक बड़ी बैठक करने वाले हैं। इस बैठक में पीएम मोदी कोविड-19 की स्थिति की समीक्षा करेंगे। ताजा आंकड़ों पर नजर डालें तो देश में ओमिक्रॉन के कुल 213 केस सामने आ चुके हैं।

covid -19

ओमिक्रॉन वैरिएंट के सबसे अधिक मामले राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में दर्ज किये गए हैं जबकि महाराष्ट्र दूसरे नंबर पर है। बीते 24 घंटे में देश भर में कोरोना से कुल 318 लोगों की मौत हुए हैं। दिल्ली में ओमिक्रॉन के 57 मामले सामने आये हैं तो वहीं महाराष्ट्र में यह आंकड़ा 54 है। केंद्र सरकार ने देश में कोविड के नए वेरियंट ओमिक्रॉन के बढ़ते मामलों को देखते हुए राज्यों को कोरोना गाइडलाइन का सख्ती से पालन करने के निर्देश दे दिए हैं। केंद्र सरकार के मुताबिक ओमिक्रॉन वेरियंट कूरना के स्वरूप डेल्टा की अपेक्षा तीन गुना अधिक तेजी से फैलता है। ऐसे में इसे फैलने से रोकने के लिए राज्य वॉर रूम केंद्रों को सक्रिय करें।

नाइट कर्फ्यू और निगरानी बढ़ाने पर जोर

केंद्र सरकार की तरफ से राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों को लिखे पत्र में केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने परीक्षण और निगरानी बढ़ाने के साथ ही नाइट कर्फ्यू लगाने, बड़ी सभाओं का सख्त नियमन, शादियों और अंतिम संस्कार कार्यक्रमों में लोगों की संख्या कम करने जैसे रणनीतिक निर्णय को लागू करने की बात कही है।