Palmistry: हथेली का ये त्रिभुज बताता है आप अमीर बनेंगे या नहीं? देखें अपना हाथ

हस्तरेखा विज्ञान (Palmistry) में हाथ की रेखाएं को देखकर किसी का भी भविष्य और स्वाभाव जान लेने के बारे में बताया गया है। जब बच्चा जन्म...

हस्तरेखा विज्ञान (Palmistry) में हाथ की रेखाएं को देखकर किसी का भी भविष्य और स्वाभाव जान लेने के बारे में बताया गया है। जब बच्चा जन्म लेता है तो उसकी हथेली में लकीरों का जाल बना रहता है, जिन्हे हाथ की रेखाएं कहा जाता है। हथेली में जीवन रेखा, भाग्य रेखा , और बुद्धि रेखा से लेकर व्यक्ति के जीवन में आने वाले उतार चढ़ाव को बताने वाली तमाम रेखाएं होती हैं। वहीं इन रेखाओं से बनने वाले विशेष प्रकार के निशान भी कोई न कोई खास संदेश देते हैं। ऐसे ही हथेली में तीन रेखाओं से बनने वाला एक ट्राइएंगल भी होता है, जो ये बताता है कि आप कितने अमीर बनेंगे।

Palmistry

शुभ माना जाता है हथेली में त्रिभुज (Palmistry)

ज्योतिशास्त्र के अनुसार किसी भी व्यक्ति के हाथ पर भाग्य रेखा, बुध रेखा और मस्तिष्क रेखा के संयोग से बनने वाला ये ट्राइएंगल बेहद शुभ होता है। कहते हैं जिन लोगों की हथेली में ये ट्राइएंगल होता है उनके अमीर बनने के रास्ते में आने वाली सभी बाधाएं आसानी से दूर हो जाती हैं। ऐसा भी कहा जाता है कि ऐसे लोग बचत करने में भी माहिर होते हैं। आइए जानते हैं हथेली में बनने वाले इस ट्राइएंगल को कैसे पहचानें?

इस तरह बनता है ये त्रिभुज

ज्योतिषाचार्य कहते हैं कि हाथ में मस्तिष्क रेखा (Palmistry) एवं हृदय रेखा के मध्य में सूर्य पर्वत और शनि पर्वत की जड़ में तथा भाग्य रेखा, बुध रेखा और मस्तिष्क रेखा के संयोग से ये ट्राइएंगल बनता है। कहते हैं कि ये त्रिभुज जितना बड़ा होता है व्यक्ति उतनी ही अधिक सेविंग्स करता है। ऐसे लोगों के पास जमीन, कई भवन और वाहन समेत भोग विलास के पर्याप्त संसाधन होते हैं। इसके अलावा संचित धन एवं संपत्ति में भी लगातार इजाफा होता रहता है।

बिना किसी बाधा के पूर्ण होते काम (Palmistry)

यह ट्राइएंगल बुध रेखा के प्रभाव से व्यापारिक कुशलता के साथ व्यक्ति को धनवान बनाता है जबकि मस्तिष्क रेखा का संयोग उसे चतुराई और बौद्धिक कार्यों से धन लाभ अर्जित करने में मदद करता है। वहीं, भाग्य रेखा का संयोग सौभाग्य और सकारात्मकता बढ़ाता है और बिना किसी बाधा के सभी कार्य पूर्ण होते हैं। इन तीनों रेखाओं का साझा प्रभाव व्यक्ति को धनवान और संग्रहकर्ता बनाता है। ऐसे लोग आजीवन सुख सुविधाओं में रहते हैं।

28 की उम्र के बाद दिखता प्रभाव

यह धन त्रिभुज 28 वर्ष की उम्र के बाद से अपना प्रभाव दिखाने लगता है। 50 वर्ष तक की आयु तक व्यक्ति काफी धन संग्रह कर लेता है। वहीं कुछ लोगों को इसका प्रभाव किशोरवस्था में ही मिलना शुरू हो जाता। ज्योतिषाचार्य कहते हैं कि इन ट्राइएंगल (Palmistry) की रेखाओं पर कोई कट या फिर तिल का निशान नहीं होना चाहिए। अगर ऐसा होता है तो जातक के धन कमाने के रास्ते में आकस्मिक अवरोध आता है।

Palmistry: अगर ऐसी है ऊंगलियों की बनावट तो आप जरूर अमीर बनेंगे

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close