इन प्रदेशों के लोग कर लें तैयारी, एक बार फिर लॉकडाउन की ओर जाने वाला है देश!

यदि भारत में नहीं तो क्या कुछ प्रदेशों या फिर कुछ शहरों में लॉकडाउन लग सकता है? क्या कुछ प्रदेश लॉकडाउन पर विचार करने लगे हैं? यहां आप जानें क्या है कोरोना से प्रभावित प्रदेशों का विचार।

कहां एक समय भारत में कोरोना के नौ दस हजार केस आने लग गए थे और कहां फिर से अस्सी हजार के पार आंकड़े मौत और रोगियों की लाइन लग गई हैं। तो ऐसे में फिर ये चर्चाएं तेज हो गई कि क्या भारत में फिर से लॉकडाउन लग सकता है? यदि भारत में नहीं तो क्या कुछ प्रदेशों या फिर कुछ शहरों में लॉकडाउन लग सकता है? क्या कुछ प्रदेश लॉकडाउन पर विचार करने लगे हैं? यहां आप जानें क्या है कोरोना से प्रभावित प्रदेशों का विचार।

वायरस के बढ़ते मामलों पर दिल्ली सीएम केजरीवाल ने शुक्रवार को एक आपात बैठक की। इस बैठक के बाद केजरीवाल ने साफ कर दिया कि दिल्ली सरकार का लॉकडाउन लगाने का कोई विचार नहीं है। यदि भविष्य में जरूरत पड़ी तो लोगों से बातचीत करके ही निर्णय लिया जाएगा।

वहीं महाराष्ट्र के पुणे में आंशिक लॉकडाउन लगा दिया गया है। एक सप्ताह के लिए शाम छह बजे से सुबह छह बजे तक कर्फ्यू लगाया गया है। हर तरह के मॉल और सिनेमा हॉल, रेस्टोरेंट, खाने की दुकानें आदि बंद रहेंगे। सिर्फ होम डिलीवरी की सेवा प्रदान की जाएगी। स्कूल कॉलेज को 30 अप्रैल के लिए बंद कर दिया गया है। प्रशासन, पुलिस, स्वास्थ्य और अन्य विभागों के शीर्ष अधिकारियों के साथ शुक्रवार सुबह उपमुख्यमंत्री अजीत पवार की अध्यक्षता में समीक्षा बैठक के बाद ये फैसला लिया गया।

यूपी के सीएम योगी ने आठवीं तक के सभी सरकारी और प्राईवेट स्कूलों को 11 अप्रैल तक बंद रखने के निर्देश दिए हैं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार को अपने सरकारी आवास पर टीम (टीम-11) के साथ कोरोना वायरस संक्रमण को लेकर उच्च स्तरीय बैठक की।

आपको बता दें कि कैबिनेट सचिव राजीव गौबा ने कोरोना की स्थिति पर शुक्रवार को सभी राज्यों के मुख्य सचिवों के साथ अहम मीटिंग की। इस दौरान विशेष रूप से उन 11 प्रदेशों के हालात पर चर्चा की गई, जहां स्थिति चिंताजनक बताई गई है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *