बुधवार के दिन इन मंत्रों से करें गणपति बप्पा को प्रसन्न, कभी नहीं आएंगी मुसीबतें

नई दिल्ली: बुधवार को भगवान गणेश का दिन माना जाता है। गणेश जी को विघ्नहर्ता कहा जाता है, अर्थात वे ही हैं जो सभी दुखों और कष्टों का नाश करने वाले हैं। मान्यता है कि इस दिन भगवान गणेश की पूजा करने से सभी बाधाएं हमेशा के लिए दूर हो जाती हैं। धार्मिक ग्रंथों में बताया गया है कि किसी भी शुभ कार्य से पहले भगवान गणेश का आह्वान किया जाता है। ऐसा माना जाता है कि गणपति बप्पा की सच्चे मन से पूजा करने से जीवन की समस्याओं को दूर कर हर कार्य में सफलता प्राप्त होती है। क्या कर सकते हैं।

dfe1156d-b96a-4241-a947-21d21b90cb45प्रातः सूर्योदय से पूर्व स्नान कर स्वच्छ वस्त्र धारण कर लें और तांबे के पात्र में गणेश जी की मूर्ति स्थापित करें। इसके बाद पूजा स्थल पर पूर्व की ओर मुख करके बैठ जाएं। यदि ऐसा संभव न हो तो उत्तर दिशा की ओर मुख करके गणेश जी की पूजा करनी चाहिए।

पूजा में भगवान गणेश को दूर्वा की 5, 11 या 21 गांठें अर्पित करें। हमेशा अपने सिर पर दूर्वा रखें, कभी भी उनके चरणों में न चढ़ाएं। इसे दूर्वा को अर्पित करते समय इस मंत्र का सही तरीके से जाप करें, इदं दूर्वादलं Om गणपतये नमः” ऐसा करने से गणेश जल्दी प्रसन्न होते हैं।

शमी गणेश जी को बहुत प्रिय हैं इसलिए पूजा में गणेश जी को शमी के कुछ पत्ते चढ़ाएं। ऐसा करने से घर में धन और सुख की वृद्धि होती है।
गणेश जी को लाल सिंदूर बहुत प्रिय है। गणेश जी की प्रसन्नता के लिए लाल सिंदूर का तिलक लगाएं। तिलक लगाने के बाद आप अपने माथे पर भी सिंदूर का तिलक जरूर लगाएं। इससे गणेश जी की कृपा प्राप्त होती है।

गणेश जी को प्रसन्न करने के लिए चावल का भोग लगाएं। गणेश जी को सूखे चावल न चढ़ाएं। पहले चावल को गीला करें, फिर ‘इदं अक्षतं गणपतये नमः’ मंत्र का जाप करते हुए तीन बार गणेश जी को चावल अर्पित करें।

पूजा में भगवान गणेश को मोदक का भोग लगाएं क्योंकि मोदक भगवान गणेश को बहुत प्रिय है। गणपति के दांत हैं, इसलिए वह आराम से खा सकते हैं। मोदक चढ़ाने से भगवान गणेश बहुत प्रसन्न होते हैं और उनकी मनोकामनाएं पूरी करते हैं।

गणेश जी की पूजा में देसी घी का दीपक जलाएं। ऐसा करने से आप पर गणेश जी की कृपा बनी रहेगी और आपकी मनोकामना भी पूर्ण होगी।
बुधवार के दिन गणपति जी की पूजा के साथ-साथ उनकी आरती भी करें और फिर चालीसा का पाठ अवश्य करें। ऐसा करने से आपको हर तरह के दुखों से मुक्ति मिलती है।

गणेश जी को हरा रंग बहुत पसंद होता है, इसलिए बुधवार के दिन हरे रंग के वस्त्र धारण करने चाहिए। ऐसा करने से बुध बलवान बनता है और उनका मान-सम्मान और धन का संकट दूर होता है। बुधवार के दिन किन्नरों को हरी मूंग दाल, अमरूद और तांबे की वस्तु का दान करें। लाल किताब के अनुसार किन्नरों को दान करने से बुध का शुभ प्रभाव पड़ता है और धन, व्यापार और शिक्षा में वृद्धि होती है।

बुधवार के दिन करें इन मंत्रों का जाप

दूर्वा करणसाह ऋत्तन मृत्युमंगल प्रदान करते हैं।
आनी तांतव पूजा के गृह देवता हैं।

अपने पिछले कर्मों के बुरे परिणामों को खत्म करने के लिए गणेश जी के इस मंत्र का जाप करें:
Om एकदंते विद्माहे। वक्रतुंडया धीमा।
तन्नो बुद्धि प्रचोदयात।

जीवन के सभी दुखों को दूर करने के लिए गणेश जी के इस मंत्र का जाप करें:
ओम उदास गौरी पुत्र, वक्रतुंडा, गणपति गुरु गणेश।
ग्लैम गणपति, रिद्धि पति, सिद्धि पति, मेरे कर दूर क्लेश..

आर्थिक संकट से मुक्ति पाने के लिए करें गणेश जी के इस मंत्र का जाप:
Om नमो गणपतये कुबेर येकाद्रिको फैट स्वाहा।

जो बेरोजगार हैं और रोजगार नहीं पाना चाहते हैं तो गणेश जी के इस मंत्र का जाप करें:
श्री गम सौभाग्य गणपतिये वर वरद सर्वजनम में विषमनय स्वाहा।