अंतर प्रांतीय गिरोह IS के 233 सदस्यों पर पुलिस ने कसा शिकंजा, इतने सदस्य गिरफ्तार

माफिया सरगना मऊ विधायक मुख्तार अंसारी के करीबी अंतर प्रांतीय गिरोह आईएस 233 (गैंग लीडर-मुन्ना बजरंगी अब मृत ) के सूचीबद्ध सदस्यों पर पुलिस ने शिंकजा कसना शुरू कर दिया है।

वाराणसी, 27 सितम्बर यूपी किरण। माफिया सरगना मऊ विधायक मुख्तार अंसारी के करीबी अंतर प्रांतीय गिरोह आईएस 233 (गैंग लीडर-मुन्ना बजरंगी अब मृत ) के सूचीबद्ध सदस्यों पर पुलिस ने शिंकजा कसना शुरू कर दिया है।
विधायक मुख्तार अंसारी के खास सहयोगी मेराज अहमद उर्फ भाई मेराज के सगे भाई यूपी पुलिस के सिपाही सेराज अहमद को दबोचने के बाद रविवार को कैंट पुलिस ने भांजे परवेज अहमद को भी गिरफ्तार कर लिया।
परवेज भी कैंट थाने का हिस्ट्रीशीटर है। उसके उपर वाराणसी और जौनपुर के विभिन्न थानों में दो दर्जन से अधिक मुकदमें दर्ज हैं।
एसपी सिटी विकास चंद्र त्रिपाठी ने बताया कि जिला पुलिस की रिपोर्ट पर जिलाधिकारी वाराणसी ने मेराज से संबंधित नौ शस्त्र लाइसेंस निलंबित कर दिए हैं। मेराज की तलाश में पुलिस टीमों की दबिश जारी है।
बताते चले भाई मेराज ने फर्जी दस्तावेज के आधार पर विभिन्न थाना क्षेत्रों से कई शस्त्र लाइसेंस बनवाए गए थे। मेराज मूल रूप से गाजीपुर जिले के करीमुद्दीनपुर थाना अंतर्गत महेन का निवासी है और वाराणसी में पहड़िया क्षेत्र की अशोक विहार कॉलोनी में रहता है।

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *