नौकरशाही से नाराज हुए प्रीतम, कही ये बड़ी बात

मुख्य विकास अधिकारी कार्यालय का कहना है कि तीन जून को विधायक प्रीतम सिंह का पत्र मिला था, जिसे स्वीकृत कर कोषागार भेजा गया है जहां से अग्रिम कार्रवाई होगी।

देहरादून॥ नौकरशाही के कामों पर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने सवाल उठाए हैं। कांग्रेस अध्यक्ष का कहना है कि उन्होंने अपनी विधानसभा चकराता में कोरोना की रोकथाम के लिए विधायक निधि (MLA fund) से स्वास्थ्य उपकरण खरीदने की स्वीकृति दी थी लेकिन स्वीकृति की जानकारी उन्हें नहीं मिल पा रही है।

Pritam angry with bureaucracy

उन्होंने मुख्य विकास अधिकारी कार्यालय पहुंचकर अपनी नाराजगी व्यक्त की। प्रीतम सिंह ने अपने पत्र के संदर्भ में जानकारी मांगी तो कहा गया कि उनका कोई पत्र नहीं मिला है। प्रीतम सिंह का कहना है कि 15 दिन पूर्व उन्होंने यह पत्र सौंपा था।

प्रीतम सिंह ने आरोप लगाया कि मुख्य विकास अधिकारी कार्यदायी संस्था को बदल रहे हैं। ये अधिकार विधायक का होता है। उनका कहना है कि अगर अफसरों का ऐसा ही कुटिल रवैया रहा तो वह प्रदर्शन करेंगे। इस संदर्भ में मुख्य विकास अधिकारी कार्यालय का कहना है कि तीन जून को विधायक प्रीतम सिंह का पत्र मिला था, जिसे स्वीकृत कर कोषागार भेजा गया है जहां से अग्रिम कार्रवाई होगी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *