प्रियंका गांधी ने मोदी सरकार पर लगाया गंभीर आरोप, चलाया ये अभियान

प्रियंका गांधी ने पूछा- कोविड से मौत के आंकड़ों में फर्क क्यों?

नई दिल्ली॥ कोविड आपदा के विरूद्ध मोदी सरकार के रवैए और नीतियों पर लगातार प्रश्न खड़े करने वाली कांग्रेस ने अब नीयत पर भी सवाल खड़े किए हैं।

priyanka gandhi

पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने आरोप लगाया कि मोदी सरकार वायरस संक्रमण और मौत के आंकड़ों का प्रयोग जनता को जागरूक करने तथा लोगों को इससे बचने के लिए करने के बजाय प्रोपेगेंडा फैलाने के काम कर रही है। दरअसल, प्रियंका गांधी ने केंद्र की मोदी सरकार के विरूद्ध ‘जिम्मेदार कौन’ अभियान चल रखा है।

इस अभियान के अंतर्गत प्रियंका गांधी प्रतिदिन फेसबुक व ट्विटर के जरिए भाजपा सरकार की मंशा और नीतियों पर सवाल खड़े कर रही हैं। इसी क्रम में कांग्रेस नेता ने मंगलवार को ट्विटर पर वीडियो शेयर करते हुए कहा, ‘मोदी सरकार ने आंकड़ों को जागरूकता फैलाने और कोविड वायरस के फैलाव को रोकने का साधन बनाने के बजाय प्रोपेगेंडा का साधन क्यों बना दिया?’

कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव ने वीडियो में सवाल किया कि आखिर कोविड से हुई मौतों के बारे में सरकार के आंकड़ों और श्मशानों-कब्रिस्तानों के आंकड़ों में इतना फर्क क्यों है? उन्होंने यह कहा है कि पहली लहर के दौरान आंकड़ों को सार्वजनिक ना करना, दूसरी लहर में इतनी भयावह स्थिति पैदा होने का एक बड़ा कारण था।

जागरूकता फैलाने की बजाय सरकार आंकड़ों में हेरफेर करती रही। जबकि विशेषज्ञ मानते हैं कि आंकड़ों की पारदर्शिता जरूरी है कि क्योंकि इससे ही पता लगता है- बीमारी का फैलाव क्या है, संक्रमण ज्यादा कहां है। कांग्रेस महासचिव ने कहा कि अगर समय पर सही रणनीति बनती तो स्थिति इतनी भयावह ना होती।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *