उत्तराखंड में सड़कें बनीं नदियां, लोगों की जिंदगी हुई बदत्तर, जानें कैसे हैं हालात

सड़कें नदियों में बदल गई हैं और मार्केट के मार्केट डूब चुके हैं

उत्तराखंड॥ राज्य में तूफानी वर्षा व बाढ़ ने तबाही मचा रखी है। लोगों की जिंदगी बदत्तर हो गई है। ऑफीशियल आंकड़ों के मुताबिक, अब तक 52 लोगों की मृत्यु हो चुकी है और अभी बचाव अभियान भी जारी है।

uttarakhand rainfall 1

सड़कें नदियों में बदल गई हैं और मार्केट के मार्केट डूब चुके हैं। लोगों के पास खाने-पीने के सामान की भी कमी होने लगी है। कुछ लोगों ने मीडिया को बताया कि कल शाम हमने लगभग 6 बजे पानी का स्तर बढ़ते देखा। हम दुकानदारों को बताने गए, किन्तु जब तक हम पहुंचे तब तक मार्केट डूब चुका था।

45 वर्षीय एक युवक ने बताया कि मेरा जन्म और पालन-पोषण रामपुर में ही हुआ। मैंने कभी ऐसी बाढ़ नहीं देखी। मुझे उम्मीद है कि तीन-चार दिन में पानी कम हो जाएगा। 30 वर्षीय सविता के लिए ये किसी बुरे सपने से कम नहीं हैं। पानी भर जाने के कारण आने-जाने का कोई साधन नहीं है।

आपको बता दें कि सविता ट्रैक्टर के जरिए आ-जा रही हैं और इसके लिए एक बार के 100 रुपए देने के लिए विवश हैं। सविता बताती हैं कि कोई भी एक जगह से दूसरी जगह नहीं जा सकता। डूबने का भय है क्योंकि पानी कम नहीं हो रहा है। मेरा घर दूसरी तरफ है, इसलिए मेरे पास रुपए खर्च करने और ट्रैक्टर-ट्रॉली में सफर करने के अलावा और कोई दूसरा उपाय नहीं है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *