चुनाव के चलते फायदे में नजर आ रही समाजवादी पार्टी, बीजेपी को सता रहा ये डर; जानें क्या

14 फरवरी को यूपी की 55 सीटों पर वोट डाले जाएंगे

लखनऊ।। 2022 इलेक्शन में बीजेपी एक बार फिर सत्ता में वापसी की जी-तोड़ कोशिश कर रही है। हालांकि बीजेपी का दावा कितना सच होगा यह तो इलेक्शन के आने वाले परिणाम ही बताएंगे। किंतु विपक्षी पार्टियों के गठबंधन की वजह से बीजेपी को सत्ता तक पहुंचने के लिए संघर्ष करना पड़ सकता है. आपको बता दें कि दूसरे चरण के मतदान में वेस्ट यूपी की 55 सीटें बीजेपी के लिए बेहद महत्वपूर्ण हैं।

सपा को होगा फायदा

जानकारी के मुताबिक- 14 फरवरी को यूपी की 55 सीटों पर वोट डाले जाएंगे। इन सीटों पर मुस्लिम व दलित जनसंख्या बहुत असरदार है। ऐसे में पहले चरण की तुलना में बीजेपी के लिए दूसरा चरण ज्यादा मुश्किल भरा मालूम पड़ता है। अखिलेश की पार्टी व रालोद में गठबंधन होने की स्थिति में मुस्लिम व जाट मतदाता बीजेपी को सत्ता से दूर रखने में मददगार साबित हो सकते हैं।

बीजेपी को सता रहा ये डर

आपको बता दें कि, 2017 व 2022 में चुनावी माहौल कुछ अलग ही नजर आ रहा है। दरअसल 2017 में जहां बीजेपी को मोदी लहर का लाभ मिला था तो वहीं अब सीएम योगी के कामों का भी मूल्यांकन होगा। इसके अतिरिक्त वेस्ट उप्र में किसान आंदोलन का प्रभाव भी देखा जा सकता है। लखीमपुर खीरी में अन्नदाताओं के साथ हुई हिंसा भी बीजेपी के लिए सिरदर्द बन सकती है। लिहाजा, अबकी वाला चुनाव भाजपा के लिए आसान नहीं होने वाला है। तो वहीं बीजेपी को ये डर सता रहा है कि कहीं अखिलेश की पार्टी उनसे ज्यादा सीटें ना ले आये।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close