सीरम इंस्टीट्यूट करेगी इस देश में 24 करोड़ पाउंड का निवेश, जानें कारण

ब्रिटिश पीएम के कार्यालय की तरफ से जारी बयान में कहा गया है कि सीरम इंस्टीट्यूट के निवेश से क्लिनिकल ट्रायल और रिसर्च एंड डेवलपमेंट में विशेष मदद मिलेगी।

इंडिया में बड़े स्तर पर कोरोना वैक्सीन का निर्माण करने वाली सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया ब्रिटेन में करीब 24 करोड़ पाउंड (24 अरब रुपये) का निवेश करेगी। ब्रिटेन के पीएम कार्यालय की तरफ से मंगलवार को दी गई खबर के मुताबिक भारत की ओर से ब्रिटेन में 53.3 करोड़ पाउंड का निवेश किया जाएगा।

Serum Institute

इससे देश में स्वास्थ्य और तकनीकी क्षेत्र में 65 हजार नौकरियां मिलने की उम्मीद है। पीएम मोदी और ब्रिटेन के पीएम बोरिस जॉनसन डिजिटल माध्यम से शिखर सम्मेलन करने वाले हैं। इससे कुछ घंटों पहले ब्रिटेन की ओर से निवेश की सूचना दी गई है।

सीरम इंस्टीट्यूट के सीईओ अदार पूनावाला फिलहाल लंदन में है। एक समाचार पत्र को दिए साक्षात्कार में उन्होंने खुद पर वैक्सीन आपूर्ति संबंधित दवाब का जिक्र किया था। पूनावाला ने साथ ही यह भी संकेत दिया था कि कंपनी देश से बाहर भी अपनी उत्पादन क्षमता को बढ़ाएगी।

ब्रिटिश पीएम के कार्यालय की तरफ से जारी बयान में कहा गया है कि सीरम इंस्टीट्यूट के निवेश से क्लिनिकल ट्रायल और रिसर्च एंड डेवलपमेंट में विशेष मदद मिलेगी। इससे देश में वैक्सीन उत्पादन होगा और दुनिया व ब्रिटेन को कोरोना और अन्य बीमारियों से निजात पाने में सहायता मिलेगी।

पीएम कार्यालय ने बताया कि सीरम इंस्टीट्यूट पहले ही नाक से दी जाने वाली कोरोना वायरस की वैक्सीन की एक डोज के पहले चरण के परीक्षण शुरू कर चुका है। इसे कंपनी कोडाजेनिक्स के साथ मिलकर तैयार कर रही है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *