चौंकाने वाला खुलासा: पतला होने के चक्कर में कुपोषण का शिकार हो गयी यह मॉडल

ख़ूबसूरती और फिटनेस को बरकरार रखने के लिए मॉडल्स को कई बार काफी कुछ सहना पड़ता है और वह इतनी कमजोर ही जाती हैं कि उनके...

ऑस्ट्रेलिया। ख़ूबसूरती और फिटनेस को बरकरार रखने के लिए मॉडल्स (Model) को कई बार काफी कुछ सहना पड़ता है और वह इतनी कमजोर ही जाती हैं कि उनके लिए उठना बैठना और सीढ़ियां चढ़ना तक काफी मुश्किल हो जाता है। कुछ ऐसा ही खुलासा ऑस्ट्रेलिया की एक मॉडल ने किया। 29 साल की मॉडल ब्रिडगेट मैलकॉम ने एक चौंकाने वाला खुलासा करते हुए बताया कि वह जिस कंपनी के लिए काम कर रही थीं उसने उन पर एक बार पतला होने के लिए इतना दबाव बनाया कि वह कुपोषण का शिकार हो गईं। उन्होंने बताया कि इसका एहसास उन्हें तब हुआ जब वो सीढ़ियां नहीं चढ़ पाईं और गिरते-गिरते बचीं। इसके साथ ही मॉडल ने और भी कई सनसनीखेज खुलासे किए हैं।

model

दूसरी मॉडल्स (Model) पर भी पतले रहने का दबाव बनाती थी

दरअसल, ब्रिडगेट मैलकॉम ऑस्ट्रेलिया की मॉडल (Model) हैं। एक रिपोर्ट के मुताबिक, ब्रिडगेट मैलकॉम कुछ समय पहले तक एक मशहूर लेडीज अंडरगार्मेंट्स कंपनी के लिए काम कर रही थीं। ब्रिडगेट ने हाल ही में कंपनी से जुड़े कुछ ऐसे राज से पर्दा उठाया है जिसे सुनकर हर कोई हैरान हो गया और काफी कुछ सोचने पर मजबूर हो गया। उन्होंने बताया कि बात साल 2015-16 की है। वह जिस कंपनी के लिए काम कर रही थी वह उनके साथ-साथ दूसरी मॉडल्स पर भी पतले रहने का दबाव बनाती थी।

कई बार ऐसा होता था कि ब्रिडगेट के साथ ही अन्य मॉडल (Model) भी कंपनी का फरमान सुनकर परेशान हो जाती थीं। दरअसल कंपनी चाहती थी कि उनकी मॉडल दुबली पतली रहें जिससे विज्ञापन के समय अच्छा लुक दिखे। ब्रिडगेट मैलकॉम ने अपनी आपबीती बताते हुए कहा कि वह एक बार इतनी कमजोर हो चुकी थी कि फ्लाइट की सीढ़ियों पर चढ़ने में उन्हें 10 मिनट लग गया।

हालांकि जैसे-तैसे वह सीढ़ियां चढ़ गईं और काफी देर तक सोचती रहीं कि ऐसा कैसे हुआ। काफी देर सोचने के बाद जब उन्हें एहसास हुआ कि वो वाकई में बहुत कमजोर हो चुकी हैं तब वो निराश हो गईं। एक बातचीत में उन्होंने बताया कि उन्हें पैनिक अटैक होने लगे थे और वो एंटी एंग्जाईटी की दवाएं भी खाने लगी थीं। वो हमेशा ही खुद को थका हुआ महसूस करती थीं। न खाने की वजह से उनको ईटिंग डिसऑर्डर हो गया। ब्रिडगेट मैलकॉम अब वो कंपनी छोड़ चुकी हैं। ब्रिडगेट अब मेंटल हेल्थ एडवोकेट बन चुकी हैं और लोगों को डिप्रेशन से उभरने में मदद करती हैं। (Model)

डेंगू का कहर: तेजी से बढ़ रहे केसों ने बढ़ाई सरकार की चिंता, कूलर चलाने पर लगा प्रतिबंध

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *