मेरठ में सपा कार्यकर्ताओं ने कमिश्नरी से लेकर कलेक्ट्रेट तक किया जमकर हंगामा, जानें वजह

जहरीली शराब कांड का विरोध कर रहे सपा नेता अतुल प्रधान पर पुलिस द्वारा दर्ज किए गए मुकदमों को लेकर सपा कार्यकर्ताओं ने पुलिस-प्रशासन के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है।

मेरठ,19 सितम्बर यूपी किरण। जहरीली शराब कांड का विरोध कर रहे सपा नेता अतुल प्रधान पर पुलिस द्वारा दर्ज किए गए मुकदमों को लेकर सपा कार्यकर्ताओं ने पुलिस-प्रशासन के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। शनिवार को सपा कार्यकर्ताओं ने कलेक्ट्रेट पर हंगामा करते हुए तहसील और थानों में तालाबंदी की चेतावनी दी है।
             
बताते चलें कि बागपत और मेरठ में जहरीली शराब से हुई 10 मौत को लेकर सपा नेता अतुल प्रधान के नेतृत्व में सपा कार्यकर्ता पिछले कई दिनों से आंदोलनरत हैं। जानी के मीरपुर जखेड़ा गांव में सपा नेता अतुल प्रधान द्वारा की गई महापंचायत के बाद पुलिस ने जानी थाने में अतुल के खिलाफ दो मुकदमे दर्ज किए हैं। जिनमें एक खुद जहरीली शराब कांड के पीड़ित परिजनों द्वारा लिखाए जाने का दावा किया जा रहा है। मगर पीड़ितों ने सपा की पत्रकार वार्ता में पुलिस के इस दावे को सरासर झूठा बताया है। अतुल पर दर्ज मुकदमों को लेकर शनिवार को समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने कमिश्नरी से लेकर कलेक्ट्रेट तक जमकर हंगामा किया।
सपा के महानगर अध्यक्ष आदिल चौधरी और सपा नेता अनुज जावला सहित सपा कार्यकर्ताओं ने कलेक्ट्रेट में धरना देते हुए प्रशासन से अतुल पर दर्ज किए गए मुकदमों को वापस लिए जाने की मांग की। उन्होंने आरोप लगाया कि प्रदेश सरकार के इशारे पर स्थानीय प्रशासन अतुल को झूठे मुकदमों में फंसा रहा है। सपा नेताओं ने हंगामा करते हुए चेतावनी दी कि अगर अतुल पर दर्ज फर्जी मुकदमों को वापस नहीं लिया गया तो सपा कार्यकर्ता जिले की तहसील और थानों की तालाबंदी करेंगे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *