सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला, कहा-सरकार से अलग राय रखना देशद्रोह नहीं, जानें पूरा मामला

सुप्रीम कोर्ट ने जम्मू एवं कश्मीर में अनुच्छेद 370 के निष्प्रभावी होने के बाद राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री फारुख अब्दुल्ला के एक बयान के चलते उनके खिलाफ केस दर्ज करने की मांग वाली याचिका खारिज कर दी है।

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट ने जम्मू एवं कश्मीर में अनुच्छेद 370 के निष्प्रभावी होने के बाद राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री फारुख अब्दुल्ला के एक बयान के चलते उनके खिलाफ केस दर्ज करने की मांग वाली याचिका खारिज कर दी है।
supreme court delhi

याचिकाकर्ता पर जुर्माना भी लगाया

सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि सिर्फ सरकार की राय से असहमति रखना राजद्रोह नहीं हो जाता। कोर्ट ने याचिकाकर्ता रजत शर्मा पर 50 हज़ार रुपये का जुर्माना भी लगाया।

याचिकाकर्ता ने कही थी ये बात

याचिकाकर्ता का कहना था कि फारुख अब्दुल्ला ने अपने बयान में चीन की मदद से जम्मू एवं कश्मीर में अनुच्छेद 370 फिर से बहाल करने की बात कही थी लेकिन कोर्ट में सुनवाई में वो साबित नहीं कर पाए कि फारुख का कहने का आशय यही था।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *