दुश्मन देशों के छूटेंगे पसीने, भारत को मिली ये खतरनाक मिसाइल; जानें खूबी

इस खतरनाक हथियार (मिसाइल) की रेंज हाल ही में 298 किलोमीटर से बढ़ाते हुए 450 किलोमीटर कर दी गई थी

हिंदुस्तान ने आज भारतीय नौसेना के आईएनएस विशाखापत्तनम युद्धपोत से ब्रह्मोस सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल का सफलतापूर्वक परीक्षण (successfully tested) किया। तो वहीं दुश्मन देशों की मुश्कलें बढ़ गयी हैं।

bramhos missile

डीआरडीओ (रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन) के एक अफसर ने कहा है कि ब्रह्मोस सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल के उन्नत समुद्री-से-समुद्र सीरीज का आज INS विशाखापत्तनम से सफलतापूर्वक परीक्षण किया गया। इस हथियार ने निर्दिष्ट टारगेट जहाज को सटीक रूप से मारा।

जानकारी के मुताबिक इस खतरनाक हथियार (मिसाइल) की रेंज हाल ही में 298 किलोमीटर से बढ़ाते हुए 450 किलोमीटर कर दी गई थी। कम रेंज की ये रैमजेट, सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल विश्व में अपनी श्रेणी में सबसे तेज गति वाली मिसाइल है। इसे पनडुब्बी, पानी के शिप, प्लेन से या भूमि से भी लॉन्च किया जा सकता है।

आपको बता दें कि ये हथियार रूस की पी-800 ओंकिस क्रूज मिसाइल की टेक्नोलॉजी पर आधारित है। यह हथियार इंडिया आर्मी, एयर फोर्स और नेवी को दी जा चुकी है। ये भी बता दें कि ब्रह्मोस मिसाइल मैक 3.5 यानी 4,300 किलोमीटर प्रतिघंटा की अधिकतम गति से उड़ने सक्षम है। यह मिसाइल पूरी तरह भारत में ही बनाई गई है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close