प्रेमी से मिलने पहुंची प्रेमिका तो आया नहीं, फिर दोस्त को किया फोन तो हुई गैंगरेप की शिकार

इसके बाद लड़की ने अपने एक दोस्त को फोन कर बुलाया तो वह साथियों संग पहुंचा और वह लड़की को जबरन एक मकान में उठाकर ले गया फिर दोस्त और उसके साथियों ने मिलकर नाबालिग संग बारी-बारी से रेप किया।  

नई दिल्ली। एक नाबालिग प्रेमिका अपने प्रेमी से मिलने पहुंची तो प्रेमी आया नहीं फिर उसने अपनी प्रेमिका को फोन कर वापस घर जाने को कह दिया। इसके बाद लड़की ने अपने एक दोस्त को फोन कर बुलाया तो वह साथियों संग पहुंचा और वह लड़की को जबरन एक मकान में उठाकर ले गया फिर दोस्त और उसके साथियों ने मिलकर नाबालिग संग बारी-बारी से रेप किया।

rape

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, पीड़िता अमर कॉलोनी इलाके में रहती है। वह 23 नवम्बर को  अपने बॉयफ्रेंड से मिलने के लिए फरीदाबाद गई थी। लेकिन बॉयफ्रेंड नहीं आया। पीड़िता का इंस्ट्राग्राम फ्रेंड अपने दो अन्य दोस्तों के साथ वहां पहुंचा और नाबालिग को जबरन एक मकान में उठाकर ले गया। जहां आरोपियों ने बंधक बनाकर उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म को अंजाम दिया।

पीड़िता 24 नवम्बर को आरोपियों के चंगुल से बचकर किसी तरह अपने घर पहुंची और मामले की सूचना पुलिस को दी। अमर कॉलोनी थाना पुलिस ने नाबालिग का मेडिकल कराया और दुष्कर्म की पुष्टि होने के बाद सामूहिक दुष्कर्म और पॉक्सो की धाराओं में केस दर्ज किया। पुलिस ने फरीदाबाद में बताई गई जगह पर छापेमारी कर तीनों आरोपियों को दबोच लिया। फिलहाल पुलिस ने आरोपियों को जेल भेज दिया है।

पुलिस अधिकारी ने बताया कि पीड़िता अपने परिवार के साथ गढ़ी गांव में रहती है और पढ़ाई कर रही है। 23 नवम्बर को नाबालिग अपने बॉयफ्रेंड मिलने के लिए फरीदाबाद गई थी। जहां उसका बॉयफ्रेंड मिलने के लिए नहीं पहुंच पाया और उसने वापस घर जाने के लिए बोल दिया। लेकिन पीड़िता ने अपने एक इंस्ट्राग्राम दोस्त शेरदीन को फोन किया और उसे मिलने के लिए बुलाया। आरोपी शेरदीन (18) नाबालिग को मिलने अपने दोस्तों वसीम खान (22) और कासीम खान (22) को लेकर पहुंचा। जहां शेरदीन ने नाबालिग को अपनी गाड़ी में बैठाया, जिसमें पहले से वासीम खान और कशीम खान बैठे हुए थे।

ऐसे में नाबालिग ने गाड़ी में बैठने से मना कर दिया। लेकिन तीनों आरोपियों ने जबरन पीड़िता को गाड़ी में बैठाया और बड़खल ले गए। जहां उन्होंने एक बंद कमरें में उसे बंधक बना लिया। इस कमरें में आरोपियों ने पीड़िता के साथ सामूहिक दुष्कर्म की वारदात को अंजाम दिया। आरोपियों ने पीड़िता के हाथ पैर बांध कर उसे कमरें में छोड़ दिया और वहां से चले गए। पीड़िता 24 नवम्बर को किसी तरह से बचकर मौके से भाग गई और अपने घर पहुंची जहां उसने परिजनों को आपबीती बताई और मामले की सूचना पुलिस को दी। पुलिस ने पीड़िता के बयान पर केस दर्ज कर फरीदाबाद में छापेमारी कर तीनों आरोपियों को शेरदीन, वसीम खान (22) और कासीम खान को 26 नवम्बर की देर रात गिरफ्तार कर लिया। तीनों आरोपी दोस्त हैं और बड़खल में रहते हैं। फिलहाल पुलिस ने तीनों आरोपियों को जेल भेज दिया है।

इंस्ट्राग्राम पर हुई थी आरोपी से दोस्ती

पीड़िता ने पुलिस को बताया कि आरोपियों में से एक से उसकी दोस्ती इंस्ट्राग्राम पर हुई थी। इंस्ट्राग्राम पर आरोप ने अपने आप को कारोबारी बताया था। दोनों के बीच दोस्ती हो गई थी। जिसके चलते जब वह फरीदाबाद पहुंची तो उसने आरोपी को फोन कर मिलने के लिए बुलाया था। लेकिन वह अपने दोस्तों को साथ लाया और फिर उसके साथ वारदात को अंजाम दिया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *