Agriculture Bill को लेकर किसानों पर सितम ढा रहे पुलिस-BJP कार्यकर्ता, आंदोलन को खत्म करने को कर रहें ये काम

कृषि कानूनों की वापसी की मांग को लेकर आंदोलन कर रहे किसानों पर पुलिस और भाजपा कार्यकर्ता सितम ढा रहे हैं। ये आरोप संयुक्त किसान मोर्चा की ओर से डॉ. दर्शनपाल ने लगाए हैं।

नयी दिल्ली। कृषि कानूनों (Agriculture Bill) की वापसी की मांग को लेकर आंदोलन कर रहे किसानों पर पुलिस और भाजपा कार्यकर्ता सितम ढा रहे हैं। ये आरोप संयुक्त किसान मोर्चा की ओर से डॉ. दर्शनपाल ने लगाए हैं। दर्शनपाल का आरोप है कि पुलिस ने आंदोलन को खत्म करने के लिए गाजीपुर बॉर्डर पर किसानों की गिरफ्तारी की है और टिकरी बॉर्डर पर पोस्टर चस्पा किए हैं जिसमें किसानों से धरनास्थल खाली करने की चेतावनी दी गयी है।

Kisan Andolan

साथ ही ये भी आरोप लगाया है कि किसानों के साथ भाजपा कार्यकर्ता पुलिस के साथ मिलकर मारपीट कर रहे हैं जिन्हें पुलिस गिरफ्तार भी नहीं कर रही। उल्टा उनके ही किसान साथियों को गिरफ्तार किया जा रहा है। डॉ. दर्शनपाल ने बयान जारी करते स्पष्ट किया कि इस तरह की कार्रवाई से किसान आंदोलन कमजोर होने के बजाय मजबूत होता जाएगा। (Agriculture Bill)

भाजपा के नेता व कार्यकर्ताओं ने किसानों के साथ मारपीट की (Agriculture Bill)

संयुक्त किसान मोर्चा के डॉ. दर्शन पाल ने कहा कि पश्चिमी उत्तर प्रदेश में किसानों के संघर्ष को बदनाम करने आये भाजपा के नेता व कार्यकर्ताओं ने किसानों के साथ मारपीट की। पुलिस ने भाजपा कार्यकर्ताओं पर कार्रवाई करने की बजाय किसानों को ही गिरफ्तार कर लिया। सरकार के किसान विरोधी साजिशों का हम कड़ा विरोध करते है। भाजपा द्वारा किसान आंदोलन को बदनाम करने की रोज कोशिशें की जा रही है। हम इसे सफल नहीं होने देंगे और किसानों का यह संघर्ष जरूर कामयाब होगा। (Agriculture Bill)

टिकरी धरने पर दिल्ली पुलिस द्वारा कुछ पोस्टर लगाए गए हैं, जिसमें किसानों से धरनास्थल खाली करने की चेतावनी दी गयी है। इस तरह के पोस्टर अप्रांसगिक है, जहां किसान अपने मौलिक अधिकारों का प्रयोग करते हुए शांतिपूर्वक प्रदर्शन कर रहे हैं। दिल्ली की सीमा पर दो माह से अधिक समय से किसान धरना-प्रदर्शन कर रहे हैं। 26 जनवरी को ट्रैक्टर रैली की घोषणा के बाद किसानों ने दिल्ली में जिस तरह से उपद्रव किया था उसके बाद कुछ संगठन अलग हो गए थे। (Agriculture Bill)

किसान नेता का कहना है कि हम पुलिस के इस कदम का विरोध करते हैं और किसानों से अपील करते हैं कि शांतिपूर्ण विरोध जारी रखें। इस तरह की धमकियां और चेतावनी से किसान आंदोलन को खत्म करने की साजिशों का सख्त विरोध किया जाएगा व इससे किसान संघर्ष ओर मजबूत होगा। (Agriculture Bill)

 

New Agriculture Bill की डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने की जमकर तारीफ, कहा- किसान का बेटा नहीं बनना॰॰॰

 

Agriculture को झटका: सरकार ने इन 59 कृषि यंत्रों से हटाई सब्सिडी, जानें किस यंत्र पर कितना अनुदान मिलता है

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *