इस ससुर ने बहू से ही कर ली शादी, वजह जानकर सन्न रह जाएंगे आप!

अजब-गजब॥ आपने ये जरूर सुना होगा कि सास या ससुर ने अपनी बेटी जैसी बहु को जिन्दा जला दिया या उसे मार पीट कर घर से बाहर निकाल दिया! बरहलाल ये तो खबरों की बात है, क्योंकि ऐसे मुद्दे आ’ज क’ल हर जगह देखने को मिलते है! पर आज जो मामला सामने आया है, वो इससे थोड़ा अलग है! जी हां, आपको जानकर हैरानी होगी कि एक ससुर ने अपनी बेटी जैसी बहु से शादी ही कर डाली! यक़ीनन ये बात जान कर आप भी हैरान हो गए होंगे!

दरअसल ये मामला गोरखपु’र जिले से करीब 25 किलोमीटर दूर चौरी चौरा तहसील के डीहघाट गांव का है! बता दे कि यहाँ रहने वाले एक दारोगा निषाद ने अपने बड़े बेटे की पत्नी पुन्नू से तेरह जून को शादी रचा ली! इसके इलावा दोनों ने चुपचाप बिना किसी को बताये मंदिर में ही शादी कर डाली! इसके बाद जब शनिवार को पूरे गांव के सामने उनके इस रिश्ते का खुलासा हुआ तो दारोगा ने बताया कि ये विवाह करना मेरी मज़बूरी थी! वास्तव में मैंने केवल अपने बड़े बेटे की बेवफाई का भुगता’न करने और अपनी बहु को नयी जिंदगी देने के लिए ये विवा’ह किया है!

इसके साथ ही पुलिस ने बताया कि वह अपने बेटे की हरकत पर बहुत शर्मिंदा है! दरअस’ल मेरे बड़े बेटे दिलीप ने किसी और से शादी कर ली! वही दूसरी शादी करने के बाद उसने घर आना जाना भी बंद कर दिया! ऐसे में मेरी बहु के ऊपर चार बच्चो की जिम्मेदारी है! इसलिए मैं चाह’ता था कि वो अपनी जिंदगी में आगे बढे और यही वजह है कि मैंने उसका हाथ थामा! बता दे कि दारोगा के बड़े बेटे ने 2001 में पुन्नू से शादी की थी! इसके बाद जॉब के लिए बाहर गए दारोगा के बेटे दिलीप ने दूसरी लड़की ढूंढ कर उसके साथ शादी कर ली! वही दारोगा के अनुसार उनका बेटा आखिरी बार 2013 में घर आया था!

पढि़एःशादी का गिफ्ट खोलते ही पत्नी की पूरी जिंदगी हुई तबाह, जानिए क्या था डिब्बे में ऐसा

ऐसे में जहा एक ओर पुलिसकर्मी अपने बेटे को बेवफा बता रहा है, वही गांव वाले दारोगा को ही दोषी मान रहे है! जी हां दरअसल गांव के एक निवासी रामशरण ने बताया कि दारोगा का बेटा रोजी रोटी कमाने शहरों में जाता था! बस इसी दौरान दारोगा और उनकी बहु के बीच नजदीकियां बढ़ती चली गयी! यहाँ तक कि एक बार घर वापिस आने पर बेटे ने उ’न दोनों को आपत्तिजनक स्थिति में भी देखा था! ऐसे में बेटा और बहु के बीच रोज इसी बात को लेकर झगड़ा भी होता था! बरहलाल कौन कितना सच बोल रहा है, ये कहना तो मुश्किल है!

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close