इस पूर्व मंत्री ने मुख्यमंत्री शिवराज पर दिया बड़ा बयान, कहा- मप्र को आत्महत्याओं का हब बना दिया

भोपाल, 05 सितम्बर। मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी के मीडिया प्रभारी, पूर्व मंत्री और कार्यकारी अध्यक्ष जीतू पटवारी ने हाल ही में आई राष्ट्रीय अपराध रिकॉर्ड ब्यूरो (एनसीआरबी) की ताजा रिपोर्ट पर तीखी प्रतिक्रिया दी है। जीतू पटवारी ने शनिवार को एक बयान जारी कर कहा कि मोदी जी, शिवराज जी और भारतीय जनता पार्टी एनसीआरबी के आंकडे यह बताते हैं कि देश में कितनी भयावाह स्थिति  है।

Shivraj

उन्होंने कहा कि 2019 सबसे अधिक आत्महत्या करने वाला वर्ष बन गया है। वर्ष 2019 में 10281 किसानों और खेतिहर मजदूरों ने जान दी है। जबकि 32,559 दिहाड़ी मजूदरों ने इस अवधि में आत्महत्या की है। साल 2019 में कुल 139,123 लोगों ने पूरे देश में जान दी। पूरे देश में मौत को गले लगाने वाले लोगों में 7.4 फीसदी लोग खेती से जुड़े किसान और खेतिहर मजूदर थे। यही नहीं आत्महत्या करने वालों में बेरोजगार युवा भी थे।

पूर्व मंत्री जीतू पटवारी ने कहा कि क्या यही वह अच्छे दिन है जिसे भारतीय जनता पार्टी, मोदी जी और शिवराज जी ने देने का वादा किया था। अब लोग गुहार लगा रहे हैं कि हमें हमारे पुराने दिन ही लौटा दो। जीतू पटवारी ने बताया कि गृह मंत्रालय के आधीन आने वाले राष्ट्रीय अपराध रिकार्ड ब्यूरो के अनुसार मेरे प्रदेश मध्य प्रदेश में 12,457 किसान, मजदूरो और युवा बेरोजगारों ने आत्महत्या की है।

उन्होनें भाजपा पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि यह प्रदेश की वस्तु स्थिति है, और यही शिवराज सिंह चौहान का असली चेहरा है। मध्य प्रदेश को आत्महत्याओं का हब बना दिया है। जीतू पटवारी ने कहा कि शिवराज सिंह चौहान जिस जिले सीहोर की बुधनी विधानसभा से चुनकर आते है वहाँ पिछले तीन दिनों में तीन-तीन लोगों ने आत्महत्या की है। यह देश का सबसे अधिक आत्महत्या करने वाला जिला बना हुआ है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *