भाई का बदला लेने के लिए युवक कर रहा था ये खौंफनाक प्लानिंग, गिरफ्तार

द्वारका सेक्टर-23 थाना क्षेत्र में पड़ोसी से भाई की हुई लड़ाई का बदला लेने के लिए एक युवक हथियार की तलाश में था।

नई दिल्ली। द्वारका सेक्टर-23 थाना क्षेत्र में पड़ोसी से भाई की हुई लड़ाई का बदला लेने के लिए एक युवक हथियार की तलाश में था। बीती 31 दिसंबर की रात को नए साल की पार्टी के दौरान डीजे पर गाना बजाने को लेकर उसके भाई की पड़ोसी से लड़ाई हुई थी। युवक ने बदला लेने के लिए 15 कारतूस तो एकत्रित कर लिए थे लेकिन हथियार की तलाश कर रहा था। इसी बीच पुलिस ने आरोपित को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपित की पहचान बामनोली गांव निवासी 27 साल के जितेंद्र उर्फ जीतू के तौर पर की गई है।

कांस्टेबल को हुआ शक

द्वारका जिला पुलिस उपायुक्त संतोष कुमार मीणा ने सोमवार को बताया कि जिले की टीम अपराधियों की धरपकड़ के लिए बामनोली इलाके में गश्त कर रही थी। इसी बीच कांस्टेबल विकास ने एक संदिग्ध युवक को देखा, जो पुलिस टीम को देखकर भागने की कोशिश करने लगा। कांस्टेबल ने शक के घेरे में लेते हुए युवक का पीछा किया और उसे दबोच लिया। तलाशी लेने पर युवक के पास से कारतूस मिले। पूछताछ में पता चला कि आरोपी मात्र 11वीं तक पढ़ा है। वह गुरूग्राम में चालक की नौकरी करता था। नौकरी करने के दौरान उसने वहां एक कमरा किराए पर लिया था। कमरे की सफाई के दौरान उसे वहां छह कारतूस मिले थे।

कारतूस खरीद लिए थे

बाद में उसने दुर्गापुरी में शक्ति नामक शख्स से तीन और कारतूस खरीद ली। यही नहीं मरेठ के मुकेश से भी आरोपित ने तीन और कारतूस खरीदी थी। वह इन दिनों हथियार की तलाश में था, लेकिन वह मिल नहीं पा रहा था। आरोपी ने कुल 15 कारतूस एकत्रित कर लिए थे।
पूछताछ में उसने बताया कि गत 31 दिसंबर को उसके भाई का डीजे बजाने को लेकर पड़ोसी से विवाद हुआ था। वह बदला लेने के लिए हथियार और कारतूस की तलाश कर रहा था। कारतूस तो मिल गए थे पर हथियार नहीं मिल सका था। पुलिस ने बताया कि पूछताछ कर उन आरोपियों के बारे में जानकारी जुटाई जा रही है, जिन से आरोपित ने कारतूस खरीदी थी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *