ट्रम्प ने कैलिफ़ोर्निया में जंगली आग का लिया जायज़ा, बताया क्या है जंगलों में आग लगने का कारण

राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प सोमवार को कैलिफ़ोर्निया की जंगली आग का जायज़ा लेने कैलिफ़ोर्निया में मेकलिन पार्क  पहुंचे।

लॉस एंजेल्स, 15 सितम्बर, यूपी किरण। राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प सोमवार को कैलिफ़ोर्निया की जंगली आग का जायज़ा लेने कैलिफ़ोर्निया में मेकलिन पार्क  पहुंचे। उन्होंने कहा कि देश के पश्चिमी छोर पर इस आग का मूल कारण जलवायु परिवर्तन नहीं, बल्कि पश्चिमी राज्यों की ओर से अपने जंगलों के प्रबंधन में विफलता है।
                       
इसके लिए उन्होंने पश्चिम छोर के तीनों राज्यों कैलिफ़ोर्निया, ओरेगन और वाशिंगटन में शासित प्रदेश सरकारों को दोषी ठहराया।  इन तीनों राज्यों में डेमोक्रेटिक सरकारें हैं। इस पर कैलिफ़ोर्निया के डेमोक्रेटिक गवर्नर गेविन न्यूकाम ने तीव्र प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा है कि कैलिफ़ोर्निया जंगलों का आधे से अधिक भू भाग तो फ़ेडरल प्रशासन के तहत आता है।
गेविन न्यूकाम ने कहा कि वह ट्रम्प के इस कथन से सहमत नहीं है कि जलवायु परिवर्तन का कोई असर नहीं हो रहा है। बाइडन ने कहा कि ट्रम्प को चार साल के लिए और सत्तारूढ़ किया गया तो अमेरिका में और कुछ स्थान जंगली आग की लपेट में आ जाएंगे। राष्ट्रपति चुनाव में पोल सर्वे में बाइडन को 51-46 प्रतिशत अंकों से आगे दिखाया जा रहा है।
 कैलिफ़ोर्निया में पिछले एक सप्ताह की आग में 29 लोगों के मरने की पुष्टि की जा रही है, जबकि हज़ारों घर आग की चपेट में आ चुके हैं।ट्रम्प अरिज़ोना और नवेडा तीन दिवसीय चुनाव प्रचार दौरे के बाद यहां सोमवार को कैलिफ़ोर्निया पहुंचे थे। इस अवसर पर उन्होंने अधिकृत दौरे के कारण जोई बाइडन पर कोई तंज नहीं कसा।
उन्होंने जंगली आग में फंसे लोगों को बाहर निकालने में सहायक नेशनल सिक्यूरिटी गार्ड के सात जवानो को फ्लाइंग क्रास भेंट किए ।ट्रम्प इन तीनों राज्यों में जंगली आग को राष्ट्रीय आपदा घोषित कर फ़ेडरल मदद की पहले ही घोषणा कर चुके हैं। ट्रम्प देश की जनता को बराबर आश्वास्त करते आ रहे हैं कि वह एकमात्र पर्यावरण संरक्षक राष्ट्रपति हैं और स्वच्छ हवा तथा स्वच्छ जल देने के लिए कृत संकल्पित हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *