Tuberculosis: टीबी के मरीजों के नियमित फालोअप में जुटा स्वास्थ्य विभाग

क्षय रोग यानि टीबी से बचाव को लेकर स्वास्थ्य विभाग मरीजों का नियमित फाॅलोअप करने में जुटा है। वर्तमान में जिले के 1755 टीबी मरीजों के...

महराजगंज। क्षय रोग यानि टीबी से बचाव को लेकर स्वास्थ्य विभाग मरीजों का नियमित फाॅलोअप करने में जुटा है। वर्तमान में जिले के 1755 टीबी मरीजों के नियमित दवा सेवन पर नजर रखी जा रही है | दवा को लेकर मरीजों में भी जागरुकता आई है। सदर ब्लॉक में चिन्हित सर्वाधिक 211 मरीजों में दवा वितरित कर उनके स्वास्थ्य को बेहतर बनाने का प्रयास किया जा रहा है। मरीज भी नियमित दवा का सेवन कर बीमारी से निजात पाने में रूचि दिखा रहे हैं।

TB

1755 मरीज करा रहे इलाज

जिले में चिन्हित क्षय रोगियों को जिला क्षय रोग केंद्र द्वारा प्रत्येक माह दवा उपलब्ध कराई जाती है। इस बात का विशेष ध्यान दिया जाता है कि मरीज की दवा न छूटने पाए। जिले में वर्तमान में कुल 1755 मरीज क्षय रोग संबंधी इलाज करा रहे हैं, जिसमें सर्वाधिक 211 सदर ब्लॉक के, 196 निचलौल के, 179 परतावल के, 166 नौतनवा के,157 फरेंदा के, 149-149 मिठौरा व सिसवा के, 140 पनियरा के, 138 घुघली के,113 लक्ष्मीपुर के, 95 बृजमनगंज के तथा 62 धानी ब्लॉक के मरीज हैं। जिला क्षय रोग अधिकारी डॉ. राजेन्द्र प्रसाद ने बताया कि क्षय रोग केंद्र की तरफ से क्षय रोगियों को समय-समय पर दवा उपलब्ध कराते हुए उनके बेहतर इलाज का प्रयत्न किया जाता है।

पोषण के लिए के 500 रुपये दिए जाते हैं प्रतिमाह

क्षय उन्मूलन कार्यक्रम के जिला समन्वयक हरिशंकर त्रिपाठी ने बताया कि जिले में चिन्हित क्षय रोगियों में से 1600 से अधिक को बेहतर पोषण के लिए 500 रुपये प्रतिमाह दिए जा रहे हैं | यह राशि जब तक टीबी का इलाज चलता है तब तक मिलती है | पोषण राशि पाने वाले 1611 रोगियों में बृजमनगंज के 89, धानी के 42, सदर के 204, घुघली के 121, लक्ष्मीपुर के 104, मिठौरा के 147, नौतनवा के 152, निचलौल के 158, पनियरा के 127, परतावल के 173, फरेंदा के 146 व सिसवा के 138 क्षय रोगी हैं।

समय-समय पर चलता है अभियान

जिला क्षय रोग अधिकारी व एसीएमओ डाॅ.राजेन्द्र प्रसाद ने बताया कि देश 2025 तक टीबी रोगी मुक्त बनाने के लिए समय-समय पर टी बी रोगी खोजी अभियान चलाया जाता है। जो भी नए रोगी मिलते हैं उनकी दवा शुरू कर दी जाती है। उन्होंने लोगों से अपील की है कि यदि किसी को टीबी के लक्षण हो तो वह जांच जरूर कराएं।

टीबी के लक्षण

  • 14 दिन से ज्यादा का बुखार
  • 14 दिनों से ज्यादा की खाँसी
  • सीने में दर्द रहना।
  • बलगम के साथ मुंह से खून आना।
  • भूख कम लगना।
  • वजन घटना।