आशा संगिनियों को दिया गया दो दिवसीय प्रशिक्षण, बढ़ेगी काम करने की क्षमता

आशा कार्यकत्रियों के क्षमतावर्धन के लिए संगिनियों का दो दिवसीय प्रशिक्षण मंगलवार को संपन्न हुआ। प्रशिक्षण के समापन पर संगिनियों को प्रमाण...

महराजगंज। आशा कार्यकत्रियों के क्षमतावर्धन के लिए संगिनियों का दो दिवसीय प्रशिक्षण मंगलवार को संपन्न हुआ। प्रशिक्षण के समापन पर संगिनियों को प्रमाण पत्र देते हुए अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ.राकेश कुमार ने कहा कि प्रशिक्षण प्राप्त संगिनी क्लस्टर बैठक में आशा कार्यकत्रियों का क्षमतावर्धन करेंगी जिससे काम की रफ्तार बढेंगी और स्वास्थ्य सेवाओं में गुणात्मक सुधार आएगा।

ASHA Workers

सीएमओ कार्यालय परिसर स्थित आयुष भवन सभागार में आयोजित दो दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम में प्रशिक्षक डिस्ट्रिक्ट कम्यूनिटी प्रोसेस मैनेजर( डीसीपीएम) संदीप पाठक ने संगिनियों को बताया कि क्लस्टर बैठक में किस तरह से स्वास्थ्य सेवाओं के बारे में आशा कार्यकत्रियों का नियमित क्षमतावर्धन कर उनके ज्ञान और कौशल को बढ़ाएंगी।

उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य विभाग और आम जनमानस के बीच आशा कार्यकर्ता एक महत्वपूर्ण कड़ी हैं। स्वास्थ्य विभाग की हर योजना को लोगों तक सही तरीके से पहुँचाने के लिए आशा कार्यकर्ताओं को समुचित जानकारी होनी चाहिए। क्षेत्र में आशा कार्यकत्रियों के समक्ष आने वाली समस्या के समाधान की जिम्मेदारी भी संगिनी की होगी।

डीसीपीएम ने भी बताया कि अप्रैल में डायरिया से बचाव, मई में स्तनपान पर जोर तथा कम वजन वाले बच्चों के प्रबंधन पर जोर, जून माह में संस्थागत प्रसव और परिवार नियोजन पर जोर , जुलाई माह में नवजात शिशु देखभाल पर जोर, अगस्त माह में गर्भवती के पंजीकरण, सितम्बर माह में गर्भवती की प्रसव पूर्व देखभाल, एनीमिया से बचाने के लिए आयरन की गोली की सेवन पर जोर रहेगा।

इसी प्रकार अक्टूबर माह में उच्च जोखिम गर्भावस्था वाली ( एचआरपी) की पहचान, नवम्बर में टीकाकरण एवं पोषण, , दिसम्बर में नवजात शिशु देखभाल, जनवरी माह में निमोनिया से बचाव और उपचार पर , फरवरी माह में गैर संचारी रोग नियंत्रण पर तथा मार्च माह में ग्राम स्वास्थ्य, पोषण एवं स्वच्छता दिवस पर फोकस रहेगा। उन्होंने कहा कि आशा कार्यकत्रियां उपरोक्त विषयों पर घर-घर जाकर लोगों को जानकारी देंगी। प्रशिक्षण प्राप्त करने वाली संगिनियों में रिंकू श्रीवास्तव, रमा उपाध्याय, कौशिल्या, सोनमती, बिन्दु यादव, शशि, तथा नीलम के नाम प्रमुख हैं।

चार्ट बनाकर करेंगे क्षमता बर्धन

प्रशिक्षण प्राप्त करने वाली संगिनी सिंधु सिंह( निचलौल) तथा उषा चौधरी ( नौतनवा) ने बताया कि खास तौर से मातृ शिशु मृत्यु दर में कमी लाने के लिए आशा कार्यकत्रियों को समय समय पर प्रशिक्षित किया जाता है। इसके साथ ही क्लस्टर बैठक में आशा कार्यकर्ताओं के क्षमतावर्धन के लिए चार्ट बनाकर जानकारी दी जाएगी, ताकि वह अपने दायित्वों का ठीक से निर्वहन तथा आमजन को समय समय पर जागरूक कर सकें। विभिन्न बिन्दुओं पर माह वार निर्धारित कार्यक्रमों के बारे में भी जानकारी दी जाएगी।