‘कपड़े उतार कर बनाया वीडियो’, Imran Khan की पार्टी पर पत्रकार ने लगाए ये गंभीर आरोप

पाकिस्तान में अपने खिलाफ खबर चलने बौखलाए प्रधानमंत्री इमरान खान की पार्टी के लोगों ने एक पत्रकार को अगवा कर लिया और उसे पार्टी कार्यालय में ले जाकर खूब यातनाएं दी.

चरसड्डा/पेशावर। पाकिस्तान में एक पत्रकार के साथ प्रधानमंत्री इमरान खान की पार्टी के लोगों ने अगवा कर पहले जमकर मारपीट की फिर कपड़े उतारकर उसका वीडियो भी बनाया. किसी तरह जान बचाकर भागे पत्रकार ने प्रेस कांफ्रेंस कर सरकार और इमरान खान पर गंभीर आरोप लगाए हैं और पूरे मामले की न्यायिक जांच की मांग की है. पीड़ित पत्रकार का नाम सैफुल्लाह जान है और वो चरसड्डा प्रेस क्लब की गवर्निंग बॉडी के सदस्य हैं. पत्रकार का कहना है कि पीटीआई के गुंडो ने उन्हें अगवा कर कार्यालय में ले जाकर खूब यातनाएं दी. वह अपने खिलाफ खबर चलने से बौखलाए थे.

Imran khan and pak army

 

प्रेस कांफ्रेंस कर लगाए गंभीर आरोप

सैफुल्लाह खान ने कहा कि उन्हें पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) के नेताओं जिसमें अब्दुल्लाह, उनके भाई फहीम, जकात कमेटी के चेयरमैन इफ्तिखार और अन्य हथियार बंद लोगों ने अगवा कर लिया और चरसड्डा बाजार में स्थित पीटीआई (PTI) के कार्यालय में लेकर गए. वहां उन लोगों ने मुझे नंगा किया और जमकर टॉर्चर किया. एएनआई की खबर के मुताबिक द न्यूज इंटरनेशनल ने कहा कि सैफुल्लाह खान का वीडियो भी बनाया गया है, जब उनके कपड़े उतार दिए गए थे.

स्थानीय लोगों के दबाव के बाद छोड़ा

सैफुल्लाह जान ने कहा कि पीटीआई के लोगों ने उन्हें तब छोड़ा, जब स्थानीय लोगों ने उनपर दबाव बनाया. पीड़ित ने कहा कि जिले के पुलिस अधिकारी मोहम्मद शोएब ने स्थानीय सरदारी पुलिस स्टेशन के पुलिसकर्मियों को केस दर्ज करने का आदेश दिया था, लेकिन स्थानीय पुलिस मामले में जान बूझकर देरी कर रही है. और न उपयुक्त धाराओं में केस भी दर्ज नहीं किया.

पत्रकार ने कहा कि पिटाई की वजह से उनका पैर फ्रैक्चर हो गया. लेकिन पुलिस ने एफआईआर में लिखा है कि उन्हें मालूमी चोटें आई हैं. उन्होंने कहा कि पुलिस ने मुख्य अभियुक्त इफ्तिखार का नाम एफआईआर में डाला ही नहीं है. यही नहीं, पेशावर हाइकोर्ट के आदेश के बावजूद पुलिस ने उन्हें मुख्य आरोपी नहीं बनाया और स्थानीय कोर्ट ने इफ्तिखार को जमानत दे दी.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *