कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन की कब रुकेगी रफ्तार? इतनी तारीख से कम होने लगेंगे केस

सरकारी सूत्रों ने बताया कि भारत में 15 फरवरी से कोविड के केसों में कमी आने लगेगी

कोरोना का नया वेरिएंट ओमिक्रॉन की वजह से देशभर में संक्रमण के केस बढ़ गए हैं। हालांकि 15 फरवरी से वायरस के केस कम होने लगेंगे। इसकी मुख्य वजह बड़ी आबादी का कोविड टीकाकरण है।

Covid-19 case

वायरस की थर्ड वेव में कोरोना वैक्सीनेशन से संक्रमण के संबंधित प्रभावों को कम करने में सहायता मिली है और इसलिए यह लहर दूसरी और पहली लहर की तुलना में कम घातक थी। एक समाचार एजेंसी ने सरकारी सूत्रों के हवाले से यह बात बताई।

सूत्रों ने बताया कि कोविड-19 की सेकेंड वेव में संक्रमण के बढ़ते केसों के कारण अस्पतालों में रोगियों की तादाद में बहुत वृद्धि हुई थी जिसकी वजह से स्वास्थ्य सुविधाएं बुरी तरह प्रभावित हो गई थी। हालांकि वर्तमान लहर में ऐसा देखने को नहीं मिला है।

सरकारी सूत्रों ने बताया कि भारत में 15 फरवरी से कोविड के केसों में कमी आने लगेगी। कुछ प्रदेशों तथा मेट्रो सिटी में कोरोना के केस धीरे-धीरे कम होने लगे हैं और यहां स्थिरता आने लगी है। कोविड टीकाकरण के कारण थर्ड वेव का असर ज्यादा नहीं रहा है। इस संबंध में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय प्रदेशों एवं केंद्र शासित राज्यों से समन्वय बनाकर चल रहा है।