विदेशमंत्री S Jaishankar की चतुष्पक्षीय वार्ता में इजराइल के साथ अन्य कौन से देश शामिल

मित्र देश इज़राइल की पांच दिवसीय यात्रा के तीसरे दिन कल मंगलवार को विदेश मंत्री एस जयशंकर (S Jaishankar) ने अमेरिका, इज़राइल और संयुक्त अरब अमीरात (यूएई)

यरुशलम: मित्र देश इज़राइल की पांच दिवसीय यात्रा के तीसरे दिन कल मंगलवार को विदेश मंत्री एस जयशंकर (S Jaishankar) ने अमेरिका, इज़राइल और संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) के विदेश मंत्रियों के साथ चतुष्पक्षीय बैठक की। इस बठक में इजराइल के विदेशमंत्री तो जयशंकर के साथ ही थे लेकिन बाकी दो लोग वीडियो कान्फरेंसिंग से जुड़े थे .इस दौरान इन नेताओं ने व्यापार तथा समुद्री सुरक्षा बढ़ाने सहित आर्थिक एवं राजनीतिक सहयोग बढ़ाने के तरीकों पर चर्चा की। जयशंकर इन दिनों इज़राइल की पांच दिवसीय यात्रा पर हैं।

S Jaishankar

 

बैठक में जयशंकर (S Jaishankar) के साथ इज़राइल के विदेश मंत्री यायर लापिद, अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन और संयुक्त अरब अमीरात के विदेश मंत्री शेख अब्दुल्ला बिन जायद अल नाहयान शामिल हुए। बैठक अच्छी रही। आर्थिक विकास और वैश्विक मुद्दों पर एक साथ मिलकर काम करने को लेकर चर्चा हुई और शीघ्र तथा कारगर कदम उठाने पर सहमति बनी।

तीनों देश हमारे सबसे करीबी साझेदारों में से हैं- जयशंकर (S Jaishankar)

जयशंकर (S Jaishankar) ने एक संक्षिप्त टिप्पणी में कहा कि तीनों देश हमारे सबसे करीबी साझेदारों में से हैं। उन्होंने अमेरिकी विदेश मंत्री ब्लिंकन की इस बात से सहमति जताई कि इस तरह का चार देशों का एक मंच तीन अलग-अलग द्विपक्षीय कार्यक्रमों की तुलना में बहुत बेहतर काम कर सकता है।

उन्होंने (S Jaishankar) कहा, ‘‘मुझे लगता है कि यह बहुत स्पष्ट है कि अपने समय के बड़े मुद्दों पर हम सभी की एक समान सोच है और यह काफी मददगार होगा यदि हम काम करने के लिए कुछ व्यावहारिक चीजों पर सहमत हो सकें।’’ अमेरिका के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता नेड प्राइस ने एक बयान में बताया कि ब्लिंकन ने तीनों समकक्षों के साथ व्यापार, जलवायु परिवर्तन से निपटने, ऊर्जा सहयोग और समुद्री सुरक्षा बढ़ाने के जरिए पश्चिम एशिया तथा एशिया में आर्थिक और राजनीतिक सहयोग बढ़ाने पर चर्चा की।

विदेश मंत्री (S Jaishankar) बोले कि मंत्रियों ने प्रौद्योगिकी तथा विज्ञान के क्षेत्र में लोगों के आपसी संबंध बढ़ाने और कोविड-19 वैश्विक महामारी के प्रकोप के दौरान विश्व स्तर पर जन स्वास्थ्य का कैसे समर्थन किया जाए, इस पर चर्चा की। ब्लिंकन ने ट्वीट किया कि बैठक में क्षेत्र और विश्व स्तर पर चिंता के साझा मुद्दों और हमारे आर्थिक तथा राजनीतिक सहयोग के विस्तार के महत्व पर चर्चा की। ब्लिंकन ने एक बयान में, इज़राइल, संयुक्त अरब अमीरात और भारत को अपने तीन बड़े रणनीतिक साझेदार के रूप वर्णित किया।

Diwali 2021: इस साल दिवाली पर बन रहे हैं कई दुर्लभ संयोग, जानिए सही तारीख और शुभ मुहूर्त

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *