लोकेश राहुल की कैप्टेंसी में क्यों हारी भारतीय टीम? कारण जान कोहली भी हो जाएंगे दंग

पूर्व अफ्रीकी क्रिकेटर फिलेंडर का मानना है कि टीम की मानसिकता ने बड़ा अंतर पैदा किया

साउथ अफ्रीका (SA) के पूर्व हरफनमौला खिलाड़ी वर्नोन फिलेंडर का मानना है कि साउथ अफ्रीका के क्रिकेटरों ने वांडरर्स में दूसरे टेस्ट मैच में सीरीज-मैच की जीत के दौरान दूसरी इनिंग में आक्रामक रुख अपनाकर भारतीय गेंदबाजों को चौंका दिया। मेजबान साउथ अफ्रीका ने पहले टेस्ट में 113 रन की हार के बाद वापसी की, इंडिया को दूसरे टेस्ट में 7 विकेट से हराकर तीन मुकाबलों की श्रृंखला 1-1 से बराबर कर ली।

टीम इंडिया को झेलनी पड़ी हार

साउथ अफ्रीका के लिए कीगन पीटरसन व टेम्बा बावुमा ने पहली इनिंग में पचासा लगाया, वहीं दूसरी इनिंग में कप्तान डीन एल्गर ने नाबाद 96 रन बनाकर टीम को टारगेट तक पहुंचाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।

क्या है हार का कारण

पूर्व अफ्रीकी क्रिकेटर फिलेंडर का मानना है कि टीम की मानसिकता ने बड़ा अंतर पैदा किया। पूर्व अफ्रीकी क्रिकेटर ने कहा कि मुझे लगता है कि पहली इनिंग में क्रिकेटर थोड़ी हिचकिचाहट दिखा रहे थे, शायद थोड़े ज्यादा रक्षात्मक। मगर, अगर आप दूसरी पारी में देखें तो उनका रवैया स्पष्ट था। भारतीय बल्लेबाज अच्छा स्कोर बनाने में और हमारे बल्लेबाजों को रोकने में असफल रहें।

फिलेंडर ने बताया कि क्रिकेटर तेजी से रन बनाने का प्रयास कर रहे थे और आप देख सकते हैं कि इससे किस प्रकार का अंतर पैदा हुआ, उनका हावभाव और इसने भारतीय गेंदबाजों को हैरान कर दिया जिन्होंने उम्मीद नहीं की थी कि हमारे बैट्समैन इस तरह अटैक करेंगे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close