आतंकी हमले में जान गवाने से पहले बोली महिला- मेरे बच्चों से कहना, मैं बहुत प्यार करती हूं!

फ्रांस के प्रेसिडेंट इमैनुएल मैक्रॉन ने बोले- उनका देश धार्मिक चरमपंथियों के विरूद्ध जल्द ही मजबूती से खड़ा होगा।

फ्रांस के प्रेसिडेंट इमैनुएल मैक्रॉन ने बोले- उनका देश धार्मिक चरमपंथियों के विरूद्ध जल्द ही मजबूती से खड़ा होगा। उनका ये भाषण नीस शहर के एक चर्च में चाकू से किए गए आतंकी हमले में 3 लोगों की मौत के बाद आया है। मुल्क में इस महीने दूसरी बार हुए हमले को उन्होंने इस्लामी आतंक ठहराया है। नीस में प्रेसिडेंट मैक्रॉन ने बताया कि फ्रांस अपने मूल्यों पर हार नहीं मानेगा।

WOMAN

शहर के चर्च नॉट्रे-डेम बेसिलिका में गुरुवार को एक ट्यूनीशियाई प्रवासी ने 30 सेंटीमीटर (12-इंच) चाकू के साथ तकरीबन तीस मिनट तक कोहराम मचाया और वहां प्रार्थना करने वालों को निशाना बनाया। इस घटना में 60 साल की एक महिला ने चर्च के भीतर ही दम तोड़ दिया। उसके बगल में ही फर्श पर 55 साल के चर्च कर्मी की भी लाश गिरी हुई थी। उसका भी गला आतंकी ने काट दिया था।

इस अटैक में घायल 44 साल की एक अन्य ब्राजीलियन युवती भागकर एक होटल में बचने के लिए घुस गईं मगर वो भी नहीं बच सकी। उसके शरीर पर कई जख्म थे। फ्रेन्च केबल चैनल BFM TV के अनुसार मरने से पहले महिला ने बोली- मेरे बच्चों से कहना। मैं उन्हें बहुत प्यार करती हूं।

जानकारों के अनुसार हमलावर, जिसे पुलिस ने गोली मारकर जख्मी कर दिया था, की पहचान 21 वर्षीय ब्राहिम औइस्सौई के रूप में की गई, जो पिछले महीने इटली आया था, फिर वहां से वो फ्रांस पहुंचा था।

 

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *