तुलसी की माला धारण करने के ये आश्चर्यजनक लाभ नहीं जानते होंगे आप…

नई दिल्ली: हिंदू धर्म में तुलसी का विशेष महत्व बताया गया है. ऐसे में महिलाएं परिवार में सुख-समृद्धि लाने के लिए तुलसी की पूजा करती हैं और उसी तरह तुलसी की माला पहनना अच्छा माना जाता है. कहा जाता है कि अगर भगवान विष्णु और कृष्ण के भक्त तुलसी की माला धारण करते हैं, तो उन्हें बहुत लाभ होता है। इसके साथ ही यह भी कहा जाता है कि तुलसी की माला को धारण करने से मन और आत्मा की शुद्धि होती है।

जी हाँ, वहीं बहुत कम लोग जानते हैं कि तुलसी की माला गले में धारण करने से जीवन शक्ति बढ़ती है, अनेक रोगों से मुक्ति मिलती है. वास्तव में इसे गले में धारण करने से शरीर शुद्ध, रोगमुक्त और सात्त्विक बनता है। वहीं तुलसी की माला से भगवान के नाम का जप करके गले में धारण करने से आवश्यक एक्यूप्रेशर बिंदुओं पर दबाव पड़ता है, जिससे मानसिक तनाव में लाभ होता है, संक्रामक रोगों से बचाव होता है और शरीर के स्वास्थ्य में सुधार होता है और दीर्घायु में मदद मिलती है।

इतना ही नहीं तुलसी को धारण करने से शरीर में विद्युत शक्ति का प्रवाह बढ़ता है और जीवित कोशिकाओं की विद्युत धारण करने की शक्ति बढ़ती है। यह भी कहा जाता है कि गले में तुलसी की माला धारण करने से विद्युत तरंगें निकलती हैं जो रक्त संचार को बाधित नहीं होने देती हैं। वहीं, तेज विद्युत शक्ति के कारण धारक के चारों ओर एक आभा मौजूद होती है।

दरअसल, गले में तुलसी की माला धारण करने से वाणी मधुर हो जाती है और इसी के साथ हृदय पर झूलती तुलसी की माला हृदय और फेफड़ों को रोगों से बचाती है। वास्तव में धारण करने वाले के स्वभाव में सात्त्विकता का संचार होता है और तुलसी की माला धारण करने वाले के व्यक्तित्व को आकर्षक बनाती है।