इस गांव में पैदा हुए बाबा राम देव, लेकिन यहां कभी नहीं हुआ योग का कार्यक्रम

img

www.upkiran.org

यूपी किरण ब्यूरो

नई दिल्ली।। बुधवार को पूरा विश्व योग में डूबा हुआ था। हर जगह इसे लेकर आयोजन हुए। लेकिन जिस व्यक्ति ने भारत समेत दुनिया की कई जगहों में योग का पाठ पढ़ाया उसके गांव के लोग योग दिवस से पूरी तरह बेखबर रहे। यहां योग दिवस पर कोई कार्यक्रम नहीं हुआ।

हरियाणा के नांगलचौधरी विधानसभा क्षेत्र का छोटा सा गांव सैद अलीपुर जहां की गलियों में अपना बचपन बिताकर कृष्ण यादव आज रामदेव बने हैं। रामदेव ने पूरे विश्व को योग का पाठ पढ़ा दिया लेकिन अपने गांव को भूल गए।

योग दिवस के दिन भी यहां के लोग अपने रोजाना के कामों में व्यस्त रहे। बुधवार सुबह के समय कोई व्यक्ति पानी ढोकर ला रहा था तो कोई अपने खेतों में हल जोत रहा था। वहीं ज्यादातर महिलाएं पशुओं का गोहा-कूड़ा करने में व्यस्त थीं और बच्चे क्रिकेट खेल रहे थे।

गांव के पूर्व सरपंच मान सिंह का कहना है कि रामदेव साल 2007 में पास के कस्बे में आयोजित योग शिविर के दौरान ही गांव आए थे। उसके बाद वे कभी नहीं आए। इस गांव में आज तक योग को लेकर कोई कार्यक्रम आयोजित नही हुआ। गांव में ऐसी कोई व्यवस्था नहीं जहां लोग सुबह के समय बैठकर योग कर सकें।

फोटोः फाइल

इसे भी पढ़ें

http://upkiran.org/4276

http://upkiran.org/4267

http://upkiran.org/4242

Related News