15 अप्रैल के बाद से मोबाइल में बंद हो जाएगी ये अहम सर्विस, अब नहीं कर पाएंगे इस्तेमाल

img

अगर आप मोबाइल चलाते हैं तो आपके लिए एक अच्छी खबर है। दूरसंचार विभाग ने स्मार्टफोन को लेकर एक अहम निर्णय लिया है, जिसका सीधा असर स्मार्टफोन यूजर्स पर पड़ने वाला है। धोखाधड़ी और घोटाले के तेजी से बढ़ते मामलों को देखते हुए केंद्र सरकार के दूरसंचार विभाग ने यूएसएसडी आधारित कॉल फॉरवर्डिंग सुविधा को 15 अप्रैल से बंद करने का निर्णय़ लिया है।

15 अप्रैल के बाद फोन यूजर्स अपने फोन में कॉल फॉरवर्डिंग सुविधा का इस्तेमाल नहीं कर पाएंगे। हालांकि, डीओटी ने यह भी कहा है कि कॉल फॉरवर्डिंग सुविधा को वैकल्पिक रूप से बाद में भी सक्रिय किया जा सकता है। फिलहाल यह सुविधा 15 तारीख के बाद बंद हो जाएगी। दूरसंचार विभाग ने इस संबंध में सभी टेलीकॉम कंपनियों को निर्देश भेज दिया है।

आपको बता दें कि दूरसंचार विभाग ने मोबाइल फोन के जरिए धोखाधड़ी और घोटालों को रोकने के लिए ये निर्णय लिया है। इसके साथ ही सरकार ने टेलीकॉम कंपनियों से कॉल फॉरवर्डिंग के लिए अलग से व्यवस्था करने को कहा है।

जानें क्या है यूएसएसडी सेवा

यूएसएसडी आधारित सेवा का उपयोग करने के लिए स्मार्टफोन उपयोगकर्ता अपने फोन स्क्रीन पर एक विशेष गुप्त कोड डायल करते हैं। आम तौर पर, यूएसएसडी आधारित सेवा के माध्यम से लोगों को IMEI नंबर जानने, मोबाइल बैलेंस जानने आदि जैसी कई अन्य जानकारी मिलती है। यूएसएसडी आधारित सेवा में कॉल फॉरवर्डिंग की सुविधा भी उपलब्ध है। यूएसएसडी आधारित सेवा में जानकारी प्राप्त करने के लिए यूजर्स को एक विशेष कोड डायल करना होगा। अब दूरसंचार विभाग ने इस सेवा में मिलने वाली कॉल फॉरवर्डिंग सेवा को बंद करने का निर्णय लिया है।

Related News