अंधेरी सुरंग में फंसे मजदूरों ने पीएम मोदी को बताया कैसे बीते 17 दिन!

img

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 17 दिन बाद उत्तराखंड में टनल से सही सलामत निकाले गए मजदूरों से बात की। नरेंद्र मोदी ने युवा इंजीनियरिंग कंपनी लिमिटेड के सबा अहमद से चर्चा की। मोदी ने सबा अहमद से कहा कि मैंने अपना फोन स्पीकर पर कर दिया है ताकि मेरे साथ बैठे लोग सुन सकें कि आप क्या कह रहे हैं।

नरेंद्र मोदी ने मजदूर से कहा कि सबसे पहले मैं आपको और आपके सभी साथियों को बधाई देता हूं। इतनी परेशानी के बाद भी आप बाहर निकलने में कामयाब रहे। ये मेरे लिए बहुत ख़ुशी की बात है। मैं इसे शब्दों में बता नहीं सकता। केदारनाथ बाबा और भगवान बद्रीनाथ की कृपा से आप सभी सुरक्षित पहुंच गये हैं।

उन्होने कहा कि 16-17 दिन का वक्त कम नहीं होता। आप लोगों ने बहुत साहस दिखाया। एक दूसरे का हौसला बढ़ाया। ये सबसे बड़ी बात है। तुममें बहुत साहस था। मुझे निरंतर जानकारी मिल रही थी। वह मुख्यमंत्री से भी निरंतर संपर्क में हैं। मेरे पीएमओ अधिकारी वहां आकर बैठे थे। सभी मजदूरों के परिवारों का पुण्य काम आया। ताकि वे संकट से बाहर आ सकें।

प्रधानमंत्री से बातचीत के दौरान सबा अहमद ने कहा, ''हम इतने लंबे समय तक सुरंग में फंसे रहे, लेकिन एक दिन के लिए भी हमें कमजोरी या डर महसूस नहीं हुआ। सुरंग के अंदर हमारे साथ ऐसा कुछ नहीं हुआ। वहां 41 लोग थे और सभी भाई-भाई की तरह रहते थे। किसी को कुछ भी हो, हम साथ-साथ रहते थे। किसी को कोई परेशानी नहीं होने दी जाती थी।"

 

Related News