भारत की एक ऐसी जगह, जहां पैदा होते ही वेश्या बन जाती है लड़की

आज हम आपको भारत के एक ऐसे राज्य में के बारे में बताएंगे जहां खुलेआम वेश्यावृत्ति धंधा चलता है। इतना ही नहीं यहां जन्म लेते ही लड़कियां वेश्या बन जाती है।

आज हम आपको भारत के एक ऐसे राज्य में के बारे में बताएंगे जहां खुलेआम वेश्यावृत्ति धंधा चलता है। इतना ही नहीं यहां जन्म लेते ही लड़कियां वेश्या बन जाती है। हम बात कर रहे हैं पश्चिम बंगाल के कोलकाता में मौजूद सोनागाछी की।

सोनागाछी, भारत ही नहीं एशिया का सबसे बड़ा रेड-लाइट एरिया है।  यहां कई गैंग हैं जो इस देह-व्यापार के धंधे को संचालित करते हैं। एक रिपोर्ट के मुताबिक, यहां करीब 12 हजार हजार वेश्याएं देह धंधा करती हैं। यह इलाका उत्तरी कोलकाता के शोभा बाजार के समीप स्थित चित्तरंजन एवेन्यू में है।

Sonagachi Prostitution Business

इस धंधे में 18 साल से कम उम्र की करीब 12 हजार लड़कियां सेक्स व्यापार में शामिल हैं। जिस उम्र में मां अपने बच्चों को दुनिया की रीति-रिवाज, लाज-शरम सिखाती हैं वहीं यहां कि बच्चियां खुद को बेचना सीखती हैं।

12 से 17 साल की उम्र में ये लड़कियां मर्दों के साथ सोना सीख जाती हैं। उन्हें खुश करना सीख जाती हैं, जिसके बदले उन्हें 150 से 200 रुपए मिलते हैं। इन रूपयों के बदले यहां की औरतें तश्तरी का खाना बनकर मर्दों की टेबल पर बिछ जाती हैं।

इस स्लम में किसी बाहरी व्यक्ति का आना मना है। यहां तक की पत्रकारों और फोटोग्राफरों को भी ये लोग भीतर नहीं आने देते।  ये सब गरीबी, भ्रष्टाचार और अनैतिकता का परिणाम है। यहां की ज्यादातर बच्चियां स्कूल छोड़कर आई हैं और अब देह बेचने का पाठ पढ़ रही हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *