5 वर्ष से छोटे बच्चों का ऐसे बनेगा आधार कार्ड, इन कागज़ को करना होगा जमा

नई दिल्ली॥ चाहे बच्चे हों या बड़े आज के समय में Aadhaar Card अब हर एक नागरिक की पहचान से जुड़ा महत्वपूर्ण प्रपत्र बन चुका है। स्कूल से लेकर सरकारी स्कीमों तक का फायदा उठाने के लिए अब आधार आवश्यक हो गया है।

5 वर्ष से कम उम्र के बच्चों के लिए भी Aadhar Card बनाना आवश्यक हो गया है। आपको हम यहां बता रहे हैं कि 5 साल से छोटे बच्चे और उनसे बड़े बच्चों का Aadhar Card कैसे बनता है और आधार बनवाने के लिए कौन-कौन से कागजात जरुरी होते हैं।

बच्चों का Aadhar Card नीले रंग का होता है और इसे बाल आधार कहा जाता है। बाल आधार बनाने के लिए नजदीकी Aadhar Card सेंटर पर जाकर एनरोलमेंट कराना होगा और बच्चे का फोटो, अभिभावक के Aadhar Card के साथ बच्चे का जन्म प्रमाण पत्र देना होगा। पांच साल की उम्र तक के बच्चों का बायोमीट्रीक डेटा नहीं लिया जाएगा।

पढ़िए-निर्भया के अपराधी ने बनाई दरिंदगी बयां करती तस्वीर, शायरी लिखकर काट रहा वक्त, रातभर मां को याद कर बहाता रहा आंसू

इस उम्र तक के बच्चों का आधार पैरेंट्स के आधार से लिंक रहेगा। 5 वर्ष से ज्यादा उम्र होने पर बच्चे का स्कूल का आईडी कार्ड/बोनाफाइड स्टेटमेंट से भी काम चल जाएगा। इसके बाद जब बच्चा पांच वर्ष का हो जाता है, तब उसका बायोमीट्रिक डेटा लिया जाता है। 15 साल की उम्र हो जाने पर एक बार फिर से बायोमीट्रिक डेटा अपडेट कराना होगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *