Ajit Singh murder case : यूपी के इस बाहुबली और पूर्व सांसद की मुश्किलें बढ़ीं, अब STF करेगी अजीत सिंह हत्याकाण्ड की जांच 

(Ajit Singh murder case) उत्तर प्रदेश के बाहुबली और पूर्व सांसद धनंजय सिंह की मुश्किलें बढ़ने वाली हैं क्योंकि बीते साल लखनऊ में गोमतीनगर...

लखनऊ। (Ajit Singh murder case) उत्तर प्रदेश के बाहुबली और पूर्व सांसद धनंजय सिंह की मुश्किलें बढ़ने वाली हैं क्योंकि बीते साल लखनऊ में गोमतीनगर स्थित विभूतिखंड में हुये अजीत सिंह हत्याकाण्ड की जांच अब एसटीएफ को सौंप दी गई है। ये कार्रवाई एडीजी कानून व्यवस्था प्रशांत कुमार के आदेश पर हुई है। बताया जाता है कि इस मामले में साजिश रचने के  मुख्य आरोपी पूर्व सांसद धनंजय सिंह हैं।

Ajit Singh murder case

कई राउण्ड की गई थी फायरिंग

बता दें कि  धनंजय सिंह को लेकर कुछ दिन से यह मामला काफी चर्चा में बना हुआ है। पिछले साल अगस्त में हुए इस हत्याकाण्ड (Ajit Singh murder case) की विवेचना विभूतिखंड कोतवाली से गाजीपुर पुलिस को स्थानान्तरित कर दी थी। दरअसल छह जनवरी, 2021 को मऊ के हिस्ट्रीशीटर अजीत सिंह को कठौता चौराहे के पास उस वक्त मौत के घाट उतार दिया गया था जब वह अपने साथी मोहर सिंह के साथ कहीं जा रहे थे। इस दौरान  उन पर कई राउण्ड फायरिंग की गई थी।

 इन पर लगा था हत्या का आरोप

इस घटना में अजीत सिंह के साथ मोहर सिंह और  राहगीर आकाश भी थे। मोहर ने जख्मी हो गए थे। (Ajit Singh murder case) इस घटना को लेकर एफआईआर करायी गयी थी कि यह हत्या जेल में बंद अखण्ड सिंह व कुंटू सिंह ने सुपारी देकर करायी है। शूटरों में गिरधारी विश्वकर्मा उर्फ डॉक्टर शामिल था।

धनंजय पर है साजिश रचने का आरोप

इसके बाद  पुलिस ने  संदीप सिंह बाबा, अंकुर सिंह, मुस्तफा, प्रिंस, बंधन, रेहान  सिंह और रेहान को भी अरेस्ट किया। पुलिस ने जेल में बंद सभी आरोपियों के खिलाफ चार्जशीट दाखिल कर दी थी। पुलिस ने विवेचना में पूर्व सांसद धनंजय सिंह को भी साजिश रचने का आरोपी बनाया और उन पर  25 हजार रुपये इनाम भी घोषित किया गया था। (Ajit Singh murder case)

गाजीपुर पुलिस को स्थानांतरित हुई विवेचना

साल 2021 के अगस्त महीने में इस हत्याकाण्ड की विवेचना विभूतिखंड पुलिस ने गाजीपुर थाने को स्थानान्तिरत कर दी थी। तब से गाजीपुर थाने में तीन विवेचक बदले जा चुके हैं। इस मामले में धनंजय सिंह की गिरफ्तारी न होने और उनके खुलेआम घूमने को लेकर सोशल मीडिया पर कई तरह की बाते हो रही थी। इसी बीच शुक्रवार को इस हत्याकाण्ड (Ajit Singh murder case) की जांच एसटीएफ को दे दी गई है। शुक्रवार शाम को एसटीएफ को यह आदेश भी पहुंच गया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close