हमारे आस-पास ही रहते हैं एलियन, ये रहा इसका सबूत?

सूरज के निकटतम तारे प्रोक्सिमा सेंचुरी की तरफ से अंज्ञात रेडियो तरंगें मिलीं है। खगोलविदों का मानना है कि इन संकेतों से पता चलता है हमारे ब्रह्मांड में एलियन मौजूद हैं।

सूरज के निकटतम तारे प्रोक्सिमा सेंचुरी की तरफ से अंज्ञात रेडियो तरंगें मिलीं है। खगोलविदों का मानना है कि इन संकेतों से पता चलता है हमारे ब्रह्मांड में एलियन मौजूद हैं। द गार्जियन की रिपोर्ट के अनुसार ये इशारे उस समय मिले थे जब साइंटिस्ट पृथ्वी के बाहर जीवन की तलाश कर रहे थे। वर्ष 2019 के मई महीनों में पहली बार ऑस्ट्रेलिया के पार्केस टेलीस्कोप ने इन रहस्मई रेडियो तरंगें का पकड़ा था।

Alien

हालांकि तब इसके साधन का पता नहीं चल पाया था। रिपोर्ट के अनुसार इन तरंगों की फ्रीक्वेंसी 980 मेगाहर्ट्ज था।हालांकि ये फ्रीक्वेंसी बेहद कम है किंतु इसमें निरंतर प्रॉक्सिमा सेंचुरी के तारे के ग्रह की गति विधि के साम्य बदलाव हो रहा था।

साइंटिस्ट ने उस समय इस संकेत को BLC1 (ब्रेकथ्रू लिसन) नाम दिया था। साइंटिस्टों के अनुसार ये पुख्ता तौर पर नहीं कहा जा सकता कि इस इन संकेतों को एलियन ने भेजा है किंतु इसके चांसेज अधिक है। ये तंरगे बहुत अजीब हैं।

साइंटिस्ट सोफिया शेख के अनुसार ये साल 1997 में एम55 तारा ग्रुप के इलाके के पास से आए संकेतों के बाद से सबसे महत्वपूर्ण संकेत हैं। सोफिया बताती हैं कि ये अब तक का पाए गए सबसे रोचक संकेत हैं क्योंकि हमें इससे पहले हमारे फिल्टर्स में इतने सिग्नल जंप कभी नहीं मिला। हालांकि अभी इन संकेतों पर अतिरिक्त जांच करनी होगी।

यूनिवर्सिटी के एक साइंटिस्ट बताते हैं कि ये सिगन्ल एलियन्स आने वाले हो सकते हैं और इसकी संभावना प्रबल है। उनके अनुसार पृथ्वी पर फोन पर सीधे संकेत नहीं आते है। हमारी गैलेक्सी में मौजूद एलियन हमसे सम्पर्क करने लिए संकेत भेज रहे हैं। साइंटिस्ट की माने तो सौरमंडर में पृथ्वी के पड़ोस में एलियन्स हो सकते हैं।

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *