अमेरिका ने दिया सबसे बड़ा झटका, कोरोना वैक्सीन को लेकर बढ़ा दी दुनिया की मुश्किलें॰॰॰

नई दिल्ली॥ हवा की रफ्तार से कोविड-19 महामारी की वैक्सीन तैयार करने, उत्पादन करने एवं बांटने के उद्देश्य से तैयार किए गए ग्लोबल संगठनों के साथ आने से अमेरिका ने मना कर दिया है। WHO के सह नेतृत्व में ग्लोबल एक्सेस फैसिलिटी (Covax) तैयार की गई है, ताकि बहुत से देश कोविड-19 महामारी की वैक्सीन को लेकर एक दूसरे के साथ जुड़ सकें और सभी को जल्दी वैक्सीन मिले।

यूएसए ने बताया कि कि वह कोवैक्स का इसलिए हिस्सा नहीं होगा क्योंकि इसका सह नेतृत्व WHO कर रहा है। हालांकि, Coalition for Epidemic Preparedness Innovations और Gavi के साथ मिलकर WHO ने कोवैक्स का गठन किया है। कोवैक्स से जुड़ने के लिए 31 अगस्त की अवधि रखी गई थी।

बीते माह WHO ने कहा था कि 170 देश कोवैक्स के साथ जुड़ने के लिए चर्चा कर रहे हैं। कोवैक्स का एक उद्देश्य ये भी है कि एक बार वैक्सीन तैयार हो जाए तो बहुत से मुल्कों के बीच समान रूप से उसका वितरण किया जा सके।

ज्ञात करा दें कि यूएस अकेले ही वैक्सीन तैयार करने पर तेजी से कार्य कर रहा है। वहीं, अमेरिका के व्हाइट हाउस के एक प्रवक्ता ने कहा कि यूएसए कोविड-19 महामारी को हराने के लिए अपने इंटरनेशनल साझेदारों के साथ तो काम करेगा, लेकिन भ्रष्ट विश्व स्वास्थ्य संगठन और चीन के प्रभाव में काम करने वाले ग्रुप का हिस्सा नहीं होगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *