Suhagnagri का नाम बदलने की कवायद, जाने क्या होगा नया नाम?

यह पहले जैन राजा चंद्रसेन की नगरी थी, जिसका नाम चंद्रवाड़ था। कालांतर में मुस्लिम शासकों ने चंद्रवाड़ पर कब्जा कर लिया था। 1566 में अकबर ने अपने सिपहसालार फिरोजशाह के नाम पर इसका नाम फिरोजाबाद रखा था

लखनऊ। उत्तर प्रदेश तेजी से बदलाव के पथ पर अग्रसर है। यह बदलाव शिक्षा, चिकित्सा, परिवहन या जीवन स्तर में नहीं बल्कि जिलों, शहरों और स्थानों के नामों में हो रहा है। ताजा जानकारी के अनुसार अब सुहागनगरी (Suhagnagri) के रूप में विख्यात फिरोजाबाद का नाम बदलकर चंद्रनगर रखा जाने की कवायद शुरू हुई है। गत दिनों इस आशय का एक प्रस्ताव ब्लॉक प्रमुख डॉ. लक्ष्मी नारायन यादव ने जिला पंचायत बोर्ड बैठक में रखा था, जिसे पूरे सदन ने पारित कर दिया। हालांकि सपा का कहना है कि सदन में बीजेपी के पास बहुमत ही नहीं है तो कि प्रस्ताव कैसे पास हो सकता है।

Suhagnagri - Firozabad

जिला पंचायत बोर्ड में फिरोजाबाद (Suhagnagri) का नाम बदलकर चंद्रनगर रखे जाने के मुद्दे पर जिला पंचायत सदस्य अध्यक्ष हर्षिता सिंह का कहना है कि हमने अपने स्तर से कार्य पूरा कर दिया है। अब इस शहर का नाम बदलने के लिए सरकार से पैरवी की जाएगी, जिससे सुहागनगरी को अपना पुराना नाम चन्द्रनगर वापस मिल सके। इसी तरह जैन विद्वान अनूप चन्द्र जैन का कहना है जैन राजा चन्द्रसेन ने चन्द्रवाड़ बसाया था और यहां तमाम जैन मंदिर बनवाए थे।

फिरोजाबाद (Suhagnagri) का नाम बदलकर चंद्रनगर रखे जाने के मुद्दे पर बीजेपी नेता कन्हैयालाल का कहना है कि आरएसएस पहले से ही फिरोजाबाद का प्राचीन नाम चंद्रनगर का इस्तेमाल करता रहा है। बतौर कन्हैयालाल प्राचीन समय में यह जैन राजा चंद्रसेन की नगरी थी, जिसका नाम चंद्रवाड़ था। कालांतर में मुस्लिम शासकों ने चंद्रवाड़ पर कब्जा कर लिया था। कन्हैयालाल ने बताया कि 1566 में अकबर ने अपने सिपहसालार फिरोजशाह के नाम पर इसका नाम फिरोजाबाद रखा था।

वहीँ समाजवादी पार्टी ने फिरोजाबाद (Suhagnagri) का नाम बदलकर चंद्रनगर रखे जाने के प्रस्ताव का विरोध किया है। सपा जिलाध्यक्ष दुर्गपाल उर्फ डीपी यादव का कहना है कि जिला पंचायत बोर्ड की बैठक में जिला पंचासपा के 19 सदस्य मौजूद ही नहीं थे। उन्होंने कहा कि बीजेपी के पास बहुमत नहीं है और बिना बहुमत के सदन में कोई प्रस्ताव कैसे पास हो सकता है?

CM Yogi Adityanath के आदेश अगस्त की इस तारीख से खुलेंगे स्कूल, इतने छात्र ही हो सकेंगे उपस्थित

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *