बलिया गोलीकांड : आरोपी के बचाव में BJP विधायक, कहा-मरने-मारने के अलावा रास्ता नहीं था

अगर आरोपी आत्मरक्षा में गोली नहीं चलाता तो उसके परिवार के दर्जनों लोगों को मार दिया जाता। विधायक का कहना है कि जिस तरह से प्रशासन अपनी कार्रवाई कर रहा है, मैं आग्रह करूंगा कि दूसरे पक्ष की बात भी करें।

बलिया। उत्तर प्रदेश के बलिया गोलीकांड में मुख्य आरोपी भाजपा नेता धीरेंद्र सिंह का भाजपा विधायक सुरेंद्र सिंह ने बचाव किया है। विधायक ने शुक्रवार को मीडिया से बात करते हुए कहा है कि आरोपी ने आत्मरक्षा में गोली चलाई थी।

उन्होंने आगे कहा कि, अगर आरोपी आत्मरक्षा में गोली नहीं चलाता तो उसके परिवार के दर्जनों लोगों को मार दिया जाता। विधायक का कहना है कि जिस तरह से प्रशासन अपनी कार्रवाई कर रहा है, मैं आग्रह करूंगा कि दूसरे पक्ष की बात भी करें।

बलिया विधायक ने कहा, ‘अगर आरोपी ने गोली चलाई तो वो आत्मरक्षा में चलाई है, ये अपराध हो सकता है लेकिन आत्मरक्षा के लिए ही लाइसेंस मिलती है। लेकिन उनके सामने मरने और मारने के अलावा कोई दूसरा विकल्प नहीं था।

गौरतलब है कि इससे पहले बलिया विधायक सुरेंद्र सिंह ने ही बयान दिया था कि आरोपी धीरेंद्र सिंह उनका सहयोगी है। विधायक के मुताबिक, लोकसभा और विधानसभा के चुनाव में उसने पार्टी का सहयोग किया है, ऐसे में मैं कैसे कह दूं कि वो मेरा सहयोगी नहीं है।

मामले में अबतक क्या हुआ एक्शन? 

आपको बता दें कि बलिया के दुर्जनपुर गांव में एसडीएम और सीओ के सामने ही दो गुटों में हिंसा हुई। इस दौरान यहां फायरिंग शुरू हुई और एक शख्स की मौत हो गई। जिसका आरोप धीरेंद्र सिंह पर लगा है। धीरेंद्र सिंह विधायक सुरेंद्र सिंह का करीबी है और चश्मदीदों का आरोप है कि पुलिस की लापरवाही के चलते वो यहां से भाग निकला।

हालांकि, स्थानीय डीएम का दावा है कि पुलिस आरोपी की तलाश में लगी है और अभी तक इस मामले में सात लोगों को अरेस्ट किया जा चुका है। गोलीकांड के मामले में कुल आठ नामजद और 25 अज्ञात लोगों पर मुकदमा दर्ज किया गया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *