शराब के शौकीनों को बड़ा झटका, इस राज्य में 20 से 25 फीसदी बढ़ी कीमतें

हैदराबाद, 19 मई | तेलंगाना सरकार ने राजस्व बढ़ाने के लिए शराब की कीमतों में 20 से 25 फीसदी तक की बढ़ोतरी की है। वहीँ शराब के सभी ब्रांडों की कीमतों में बढ़ोतरी की गई और इससे सरकार को सालाना 6,000 करोड़ रुपये से 7,000 करोड़ रुपये का अतिरिक्त राजस्व प्राप्त करने में मदद मिलने की उम्मीद है।

Liquor price in Telangana

राज्य ने 2021-22 में 12,000 करोड़ रुपये की कर आय के साथ शराब की बिक्री से 30,000 करोड़ रुपये कमाए थे अधिकारियों ने 1,000 मिलीलीटर शराब की कीमत 120 रुपये बढ़ा दी है। कीमत 495 रुपये से बढ़कर 615 रुपये हो गई है। एक चौथाई बोतल की कीमत में 20 रुपये की बढ़ोतरी की गई है। सभी प्रकार की बीयर पर न्यूनतम 10 रुपये प्रति बोतल की बढ़ोतरी की गई थी।

बता दें कि नई कीमतें गुरुवार से लागू हो जाएंगी। आबकारी अधिकारियों ने बुधवार की रात दिन की बिक्री समाप्त होने के बाद शराब की दुकानों, बार और पब में शराब के स्टॉक की जांच की. गुरुवार से उपलब्ध स्टॉक को नई दरों पर बेचा जाएगा। शराब नीति 2021-23 लागू होने के बाद पहली बार शराब की कीमतों में बढ़ोतरी की गई है। राज्य में शराब की कीमतों में आखिरी बार मई 2020 में कोविड -19 लॉकडाउन के पहले चरण के तुरंत बाद बढ़ोतरी की गई थी।

यह ऐसे समय में आया है जब राज्य को अपनी कल्याणकारी योजनाओं को जारी रखने के लिए धन की कमी का सामना करना पड़ रहा है क्योंकि केंद्र ने ऋण और बाजार उधारी पर मानदंडों को कड़ा कर दिया है। यह राज्य सरकार द्वारा अपने राजस्व को कम करने के लिए किए गए उपायों की एक श्रृंखला में नवीनतम है। इसने हाल ही में भूमि के बाजार मूल्य, संपत्ति पंजीकरण शुल्क, बस किराए और बिजली शुल्क में वृद्धि की है।