BJP ने कहा, बंगाल में हिंसा राज्य प्रायोजित, गरिमा का ख्याल रखें ममता

पार्टी ने हिंसा की घटनाओं के लिए तृणमूल कांग्रेस को जिम्मेदार ठहराते हुए सीएम ममता बनर्जी से कहा कि वह अपनी जीत में गरिमा का ख्याल रखें।

BJP ने पश्चिम बंगाल में चुनाव नतीजों के बाद हिंसा और आगजनी की घटनाओं पर चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि बंगाल में जो कुछ आज हो रहा है वो राज्य के प्रशासन द्वारा प्रायोजित हिंसा और क्रूरता है। पार्टी ने हिंसा की घटनाओं के लिए तृणमूल कांग्रेस को जिम्मेदार ठहराते हुए सीएम ममता बनर्जी से कहा कि वह अपनी जीत में गरिमा का ख्याल रखें।

BJP

BJP प्रवक्ता संबित पात्रा और अनिर्वाण गांगुली ने एक वर्चुअल संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि बंगाल में जो मंजर आज हम देख रहे हैं, उस पर विश्वास नहीं होता। आज तक ऐसा मंजर किसी चुनाव के बाद, हिन्दुस्तान ने कभी नहीं देखा।

पात्रा ने कहा कि आज बंगाल जल रहा है। दिल दहलाने वाले दृश्य सोशल मीडिया और टीवी के माध्यम से हम सब देख रहे हैं। ऐसे दृश्य देखकर रूह कांप उठती है । लोगों के घर में आग लगा दी गई है, घर तोड़े जा रहे हैं, कार्यकर्ताओं की हत्या की जा रही है। उन्होंने कहा कि पश्चिम बंगाल का प्रशासन संपूर्ण रूप से चरमरा गया है।

BJP कार्यकर्ता हर घड़ी हमारे नेताओं को फोन करके गुहार लगा रहे हैं कि हमें बचा लीजिए। हमें और हमारे घर वालों को मारा जा रहा है।

BJP नेता ने कहा कि बंगाल में जो कुछ आज हो रहा है, वो राज्य के प्रशासन द्वारा प्रायोजित हिंसा, क्रूरता है। ममता जी आप जीत में गरिमा रखिए। पात्रा ने तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ममता बनर्जी से अपील करते हुए कहा कि आप खुद एक महिला सीएम हैं। जिन माताओं के साथ आज बलात्कार हो रहा है, जिन बेटियों को घर से निकालकर मारा जा रहा है, क्या वो बंगाल की बेटी नहीं हैं? क्या उनके साथ ऐसा व्यवहार होना चाहिए? ये संयोग नहीं, प्रयोग है, प्रायोजित है।

BJP प्रवक्ता ने कहा कि ममता ने चुनाव से पहले भाषण देते हुए कहा था कि चुनाव समाप्त होने के बाद सीआरपीएफ तो वापस चली जाएगी, उसके बाद का समय तृणमूल कांग्रेस का होगा, हम भी देखेंगे। पात्रा ने कहा कि आज पूरा हिंदुस्तान और विश्व देख रहा है कि बंगाल में क्या हो रहा है।

बता दें कि पश्चिम बंगाल में चुनाव नतीजों के बाद से राज्य में हिंसा और उपद्रव का माहौल है। BJP कार्यकर्ताओं के घर. दुकानों को आग के हवाले कर दिया जा रहा है और महिलाओं के साथ मारपीट की जा रही है। कई कार्यकर्ताओं और समर्थकों की हत्या भी हो गई है।

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *