बड़ी खबर: अगर जाना चाहते है इस देश तो हो जाएं तैयार, 32 देशों के लिए हटाई गई पाबंदी

ब्रिटेन सरकार ने सार्वजनिक स्वास्थ्य के आधार पर जरूरी यात्रा को छोड़कर सभी यात्रा के खिलाफ चेतावनी को बुधवार को अपडेट किया.

कोरोना के दौरान कई देशों ने अपने देश में किसी बाहरी यात्री पर पाबंदी लगा दी थीं. आपको बता दें कि ब्रिटेन ने बांग्लादेश और मलेशिया सहित 32 देशों से कोविड-19 संबंधी पाबंदी हटा दिया है. ब्रिटेन सरकार ने सार्वजनिक स्वास्थ्य के आधार पर जरूरी यात्रा को छोड़कर सभी यात्रा के खिलाफ चेतावनी को बुधवार को अपडेट किया.

flight

आपको बता दें कि एफसीडीओ ने जिन 32 देशों के लिए ट्रैवल एडवाइजरी अपडेट की है उनमें अल्जीरिया, आर्मेनिया, बांग्लादेश, बेलारूस, बेनिन, कोमोरोस, टोकेलाऊ और नीयू, जिबूती, भूमध्यवर्ती गिनी, फिजी, गाम्बिया, गिनी, कजाकिस्तान, किरिबाती, कोसोवो, लाइबेरिया, मेडागास्कर, मलेशिया, मार्शल द्वीप समूह, माइक्रोनेशिया, नाउरू, एस ओ टॉम और पीआर एनसीपीई, सेनेगल, सोलोमन इस्लैंडस, जाना, टोंगा, तुवालु, वानुअतु, कांगो,अमेरिका समोआ, फ्रेंच पॉलीनेशिया, और घाना शामिल हैं. भारत इस पूर्ण यात्रा प्रतिबंध में शामिल देशों में नहीं था.

वहीँ ज्ञात हो कि ब्रिटेन सरकार के सूत्रों ने कहा है कि अतिरिक्त देशों में वैक्सीन प्रमाणन के विस्तार की समीक्षा लगभग हर तीन सप्ताह में की जाएगी, इस सप्ताह पहले तीन सप्ताह के समीक्षा को चिह्नित करने की उम्मीद है. इस बीच, टीकाकरण की स्थिति के बावजूद ब्रिटेन में प्रवेश करने वाले भारतीयों को तीन पीसीआर परीक्षण करने और एक घोषित पते पर आइसोलेट होने की जरूरत है. नई दिल्ली ने पिछले दिनों ब्रिटिश सरकार को करारा जवाब देते हुए सोमवार से भारत आने वाले ब्रिटिश नागरिकों के लिए क्वारंटीन और आरटी-पीसीआर जांच अनिवार्य कर दिया है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *