बांग्लादेश जा रही दो महिलाओं एवं दलाल को बीएसएफ ने किया गिरफ्तार

बताया गया है कि रविवार रात करीब साढ़े 12 बजे सीमा चौकी रानाघाट के सीमा पर तैनात म जवानों ने गांव बनेश्वरपुर की ओर से एक ऑटो रिक्शा आते देखा।

नदिया॥ एक भारतीय दलाल के साथ दो बांग्लादेशी महिलाओं को गैर कानूनी रूप से बांग्लादेश से लगी अंतर्राष्ट्रीय सीमा पार करने के दौरान अरेस्ट किया गया है। यह अरेस्टी रविवार रात उत्तर 24 परगना जिले के सीमावर्ती इलाके से 99वीं वाहिनी सीमा सुरक्षा बल की सीमा चौकी रानाघाट के जवानों ने किया।

arrest

BSF की ओर से सोमवार को ये सूचना दी गई है। बताया गया है कि रविवार रात करीब साढ़े 12 बजे सीमा चौकी रानाघाट के सीमा पर तैनात म जवानों ने गांव बनेश्वरपुर की ओर से एक ऑटो रिक्शा आते देखा। जिसमें बैठी दो महिलाओं पर जवानों को शक हुआ तो जवानों ऑटो रिक्शा को रोककर पूछताछ की, जिससे ऑटो रिक्शा चालक और महिलाएं घबराकर मौके से निकलने की कोशिश करने लगे। लेकिन सीमा सुरक्षा बल के जवानों ने उन्हे अरेस्ट कर लिया और आगे कि पूछताछ के लिए सीमा चौकी रानाघाट ले कर आए।

अरेस्ट की गई महिलाओं की पहचान नजमा बेगम (32) एवं लखी मंडल (24) के रूप में हुई है। दोनों ही बांग्लादेश के झेनैदाह जिला अन्तर्गत मटीला गांव की रहने वाली है। इसके अलावा BSF जवानों ने 46 वर्षीय दलाल मनन मंडल को अरेस्ट किया है जो कि पश्चिम बंगाल के नदिया जिला अन्तर्गत कुलिया ग्राम का रहने वाला है।

पूछताछ करने पर बांग्लादेशी महिलाओं ने बताया कि वे दोनों सात महीने पहले गैर कानूनी तरीके से भारत आई थी और मुम्बई में नौकरानी का काम करती हैं। रविवार को मनन नाम के भारतीय दलाल की मदद से वापस बांग्लादेश जा रही थी। वे दोनों मनन मंडल को बखूबी जानती है, उसी ने उनके जाली दस्तावेज़ बनवाए थे।

मनन उन्हें रानाघाट तक लेकर आया वहां उसने हमें मुन्ना नाम के भारतीय दलाल को सौप दिया जो कि मानव तस्करी में भी लिप्त है। मुन्ना ने सीमा पिर करवाने की एवज में उनसे सात हजार रुपये लिए थे। अरेस्ट किए गए व्यक्तियों को जब्त किए गए सामान के साथ पुलिस थाना बगदाह में आगे की कानूनी कार्यवाही के लिए सौप दिया गया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *